नक्सल अभियान में अदम्य परिचय देने वाले जिले के चार बहादुरों को मिलेगा वीरता पुरस्कार

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में दर्ज 22 अपराध में शामिल 8 लाख के ईनामी नक्सली खटिया मोचा एरिया कमेटी के सक्रिय सदस्य संदीप उर्फ लख्खु कुंजाम को जीवित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

Balaghat News : 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर मध्यप्रदेश पुलिस के चार जवानों को अदम्य साहस के लिए वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। जिसमें सिवनी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्याम कुमार मरावी और जिले के तीन बहादुर एसआईबी निरीक्षक शिव कुमार मरावी, हॉकफोर्स प्रधान आरक्षक राजकुमार कोल और एसआईबी प्रधान आरक्षक शेख रशीद शामिल है। जिन्होंने बालाघाट में चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान में 2 हार्डकोर नक्सली को गिरफ्तार करने में अदम्य साहस एवं वीरता का परिचय दिया था।

नक्सली और टीम को सकुशल जंगल से निकाला था बाहर

गौरतलब है कि 17 सितंबर 20220 को मलाजखंड थाना अंतर्गत समनापुर के बांधाटोला में 2 संदिग्ध नक्सलियो की तस्दीक के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बैहर रहते हुए श्याम कुमार मरावी के नेतृत्व में भेजी गई टीम को देखकर नक्सली ने पिस्टल से फायर करते हुए भागने के लिए तालाब में कूद गये थे। जिसमें टीम में शामिल हॉकफोर्स प्रधान आरक्षक राजकुमार कोल ने जान की परवाह न करते हुए तालाब में छलांग लगाकर विस्तार प्लाटून-2 के सक्रिय एरिया कमेटी मेंबर बादल उर्फ कोसा को पकड़ा था। जिस पर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ पर 17 अपराध पंजीबद्व थे और उस पर 8 लाख रूपये का ईनाम था। जिसे गिरफ्तार करने के बाद वापस जंगल के रास्ते से लाते समय जंगल में छिपे नक्सलियों ने पुलिस टीम पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी थी लेकिन एडीएसपी के नेतृत्व में टीम ने शौर्यता का परिचय देते हुए गिरफ्तार नक्सली और टीम को सकुशल जंगल से बाहर निकाला था।

जबकि 18 अगस्त 2021 को थाना बिरसा अंतर्गत जैरासी में संदिग्ध नक्सलियों की उपस्थिति की सूचना पर एसआईबी में पदस्थ शिवकुमार मरावी एवं शेख रशीद द्वारा अपनी जान की परवाह ना करते हुए गांव के भीतर घुसकर अति महत्वपूर्ण जानकारी हासिल की और नक्सलियों की रणनीति का पता कर सुरक्षाबलों को आगाह किया। रात लगभग 8.30 बजे जंगल में छिपे नक्सलियों द्वारा पलिस पर अंधाधुंध फायरिंग करते हुए भागने का प्रयास किया गया। उस दौरान जवान शिव मरावी और शेख रशीद ने अदम्य साहस और वीरता का परिचय देते हुए उनका पीछा किया और मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में दर्ज 22 अपराध में शामिल 8 लाख के ईनामी नक्सली खटिया मोचा एरिया कमेटी के सक्रिय सदस्य संदीप उर्फ लख्खु कुंजाम को जीवित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।

इन दोनो बड़े नक्सलियों को गिरफ्तार करने के बाद पूछताछ में बालाघाट पुलिस को नक्सल रणनीति पर महत्वपूर्ण जानकारी मिली। जिससे नक्सल उन्मूलन अभियान में प्रदेश में पुलिस को सफलता मिली है। जिनके अदम्य साहस और वीरता को सम्मानित करने के लिए उन्हें वीरता पुरस्कार प्रदान किया जा रहा है।
बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट