बालाघाट में बडी कार्रवाई, EOW ने तहसीलदार के रीडर को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

चर्चा में समझौता 40 हजार रु में हुआ।

बालाघाट,डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले से एक बड़ी खबर आ रही है, जहाँ EOW ने बडी कार्रवाई की है, जहाँ तहसीलदार के रीडर को 35 हजार रूपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है।

आपको बता दें कि जबलपुर आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने आज बालाघाट के लालबर्रा तहसील में बड़ी कार्यवाही करते हुए तहसीलदार के रीडर को 35000 रु की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपी रीडर का नाम पेमेंद्र हरिनखेड़े है जो कि तहसीलदार राम बाबू देवांगन के पास पदस्थ है। आरोपी रीडर बालाघाट निवासी अरुण जेठवा से उनकी जमीन के खसरे से अन्य भागीदारों के नाम अलग करने के लिए 50 हजार रु रिश्वत की मांग कर रहा था। चर्चा में समझौता 40 हजार रु में हुआ।

बालाघाट में बडी कार्रवाई, EOW ने तहसीलदार के रीडर को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

रिश्वत की पहली क़िस्त अरुण ने 16 जून को 5 हजार रु की दे दी थी।आज बाकी के 35 हजार रु के लिए तहसीलदार के रीडर ने अरुण जेठवा को अपने घर पर बुलाया था।जैसे ही रीडर ने रिश्वत के रु लिए तभी ईओडब्ल्यू की टीम ने रंगे हाथों उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

बालाघाट में बडी कार्रवाई, EOW ने तहसीलदार के रीडर को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

कार्यवाही के दौरान eow जबलपुर की टीम में उप पुलिस अधीक्षक मनजीत सिंह, विवेचक निरीक्षक प्रेरणा पाण्डेय, निरीक्षक शशिकला मस्कूले, निरीक्षक मोमेंद्र मर्सकोले,उप निरीक्षक कीर्ति शुक्ला रही।