महिला ग्राहक के आपत्तिजनक फोटोज और विडियो को वायरल करने के नाम पर ब्लैकमेलिंग

पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपी मोबाईल दुकान संचालक को किया गिरफ्तार

Balaghat

बालाघाट, सुनील कोरे| सावधान हो जायें..यदि आपने अपना मोबाईल, रिपेरिंग करने मोबाईल दुकान संचालक को दिया है तो यह पहले जांच ले कि आपके मोबाईल में कोई आपकी व्यक्तिगत आपत्तिजनक फोटोज और विडियो तो नहीं है.. यदि है तो उसे हटा ले, अन्यथा आप ब्लैकमेलिंग के शिकार हो सकते है। कोतवाली पुलिस ने एक ऐसे मोबाईल दुकान संचालक को गिरफ्तार किया है, जो महिला ग्राहक के आपत्तिजनक फोटोज और विडियो को वायरल करने की धमकी देकर अनैतिक मांग के लिए ब्लैकमेलिंग कर रहा था। जिसकी शिकायत महिला द्वारा कोतवाली थाने में किये जाने के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए कोतवाली पुलिस ने वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन और सीएसपी कर्णिक श्रीवास्तव के नेतृत्व में शिकायत के महज दो घंटे में ही नगर के गौली मोहल्ला निवासी आरोपी अरिहंत मोबाईल शॉप के संचालक अंकुश पिता प्रमोद जैन को गिरफ्तार किया। जिसके पास से पुलिस ने महिला के आपत्तिजनक फोटोज और विडियो रखे मोबाईल, सिस्टम और अन्य मोबाईल को जब्त किया है। इस मामले मंे पुलिस ने आरेापी अंकुश पिता प्रमोद चौहान के खिलाफ धारा 506(2),409,354(घ),384 भादंवि तथा 66(ई),43(बी),66 आईटी एक्ट के तहत अपराध कायम कर जांच में लिया है।

आपत्तिजनक फोटोज एवं विडियो को वायरल करने की धमकी देकर कर रहा था अनैतिक मांग
कोतवाली थाना में मामले को लेकर आयोजित प्रेसवार्ता में सीएसपी कर्णिक श्रीवास्तव ने बताया कि महिला कुछ समय पहले अपने मोबाईल को रिपेरिंग करने के लिए अरिहंत मोबाईल शॉप लेकर गई थी। जहां दुकान संचालक द्वारा मोबाईल रिपेरिंग के दौरान मोबाईल में रखे व्यक्तिगत आपत्तिजनक फोटोज और विडियो को अपने मोबाईल में स्थानांतरित कर लिया गया था। जिसके बाद से दुकान संचालक महिला को मैसेज कर अनैतिक मांग को लेकर ब्लैकमेलिंग कर रहा था, जिसे पूरा नहीं करने पर फोटोज और विडियो को सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी भी दे रहा था। जिसके बाद परेशान महिला ने इसकी शिकायत कोतवाली थाने में की थी। जिसे गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार किया।

आरोपी के पास से मिले अन्य लड़कियों के अश्लील फोटो
सीएसपी कर्णिक श्रीवास्तव ने प्रेस को बताया कि आरोपी एक साल से मोबाईल सुधारने आने वाली महिला और युवतियों के आपत्तिजनक और अश्लील फोटोज एवं विडियो को अपने सेव कर लेता था। इससे पहले कि शिकायतकर्ता महिला के विडियो और फोटो को सोशल मीडिया में वायरल करता, इससे पहले ही उसे पकड़ लिया गया। जिसके पास से अन्य लड़कियों के भी अश्लील फोटो मिले है।

पुलिस ने की पीड़िताओं से पुलिस में शिकायत करने की अपील
प्रेसवार्ता के माध्यम से सीएसपी कर्णिक श्रीवास्तव ने इस तरह के मामले में पीड़ित महिलाओं और युवतियों से की गई ब्लैकमेलिंग और अनैतिक मांग की शिकायत पुलिस में दिये जाने की अपील की है, ताकि ऐसे मामले में परेशान करने वालो का चेहरा बेनकाब हो सकें। घटना के बाद से ऐसे कृत्य करने वाले लोगों में हड़कंप और भय का माहौल देखा जा रहा है।

इनकी रही सराहनीय भूमिका
महिला मोबाईल धारक की निजी आपत्तिजनक फोटोज एवं विडियो को सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देकर अनैतिक मांग पूरी करने के लिए ब्लैकमेल कर रहे आरोपी अंकुश पिता प्रमोद जैन को गिरफ्तार करने में नगर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में थाना प्रभारी मंशाराम रोमड़े, एसआई विकास यादव, एएसआई भीमराम मेश्राम, आरक्षक शैलेष गौतम, गजेन्द्र माटे, दारासिंह बघेल, सूरज बरकड़े, यशवंत अगासे, दिनेश कुमरे, शिशुपाल कटरे का सराहनीय योगदान रहा।