मौसम के कारण सीएम शिवराज सिंह ने जनता से मांगी माफी, मोबाइल से किया जनता को संबोधित

उन्होंने जनता से पुनः माफी मांगते हुए शीघ्र ही आने का वादा किया।

बालाघाट,सुनील कोरे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) का 22 सितंबर को मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान शिविर में कैंडाटोला मलाजखंड आने का कार्यक्रम निर्धारित था। लेकिन अधिक वर्षा होने एवं मौसम खराब होने के कारण सौंसर जिला छिंदवाड़ा से हेलीकॉप्टर का उड़ना संभव नहीं होने के कारण वे कैंडाटोला मलाजखंड नहीं पहुंच सके। इस पर मुख्यमंत्री चौहान ने मोबाइल फोन के जरिए कैंडाटोला शिविर में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित किया।

यह भी पढ़े…ICAR UG Answer Key 2022 : जारी की आईसीएआर ने यूजी प्रवेश परीक्षा की उत्तर कुंजी, ऐसे करें चेक

मुख्यमंत्री चौहान ने खराब मौसम के कारण कैंडाटोला शिविर में नहीं आने के लिए जनता से क्षमा मांगते हुए कहा कि वे मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के अंतर्गत लगने वाले दूसरे शिविर में शीघ्र ही आने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान का एक ही उद्देश्य है कि आम जनता को अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए दफ्तरों के चक्कर न लगाना पड़े बल्कि शासन के अधिकारी कर्मचारी पंचायतों में पहुंचकर समस्याओं का निराकरण करें। मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत लगने वाले शिविरों में पंचायत स्तर पर आवेदकों के आवेदनों को प्राप्त किया जाएगा और उनकी वहीं पर छंटाई की जाएगी। इसके बाद आवेदनों को संबंधित विभाग में भेज कर पात्रता के अनुसार योजनाओं का लाभ दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज मैं खराब मौसम के कारण कैंडाटोला के शिविर में नहीं आ सका। लेकिन मेरे प्रतिनिधि के रूप में आयुष मंत्री रामकिशोर नानो कावरे हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण करेंगे। उन्होंने जनता से पुनः माफी मांगते हुए शीघ्र ही आने का वादा किया।

यह भी पढ़े…प्राइम मिनिस्टर्स स्कॉलरशिप स्कीम फॉर सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्सेज एंड असम राइफल्स 2022-23, ऐसे करें आवेदन

कैंडाटोला में आयोजित जनसेवा अभियान शिविर में आयुष मंत्री रामकिशोर कावरे ने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण किया। इस अवसर पर उन्होंने लाड़ली लक्ष्मी योजना की बालिकाओं का सम्मान किया और उन्हें प्रमाण पत्र प्रदान किया। कार्यक्रम में उद्यानिकी विभाग की योजना के अंतर्गत काजू फलोद्यान विस्तार के लिए 2 हितग्राहियों को काजू के पौधे वितरित किए गए। एक हितग्राही को प्राकृतिक आपदा से मृत्यु पर 04 लाख रुपये की राशि प्रदान की गई। कार्यक्रम में हायर सेकेंडरी स्कूल कचनारी की 5 बालिकाओं को साइकिल वितरण किया गया। शिविर में मत्स्योद्योग विभाग की योजना के अंतर्गत 114 मत्स्य पालकों को 12 लाख 60 हजार रुपये के किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान किए गये।