लॉक डाउन में चेकिंग के दौरान 5 किलो गांजे के साथ दंपतीगिरफ्तार

बालाघाट। सुनील कोरे| प्रदेश में बढ़ते कोरोना प्रभाव को देखते हुए रविवार 12 जुलाई को किये गये लॉक डाउन के दौरान कोतवाली पुलिस को वाहन चेकिंग के दौरान एक बड़ी सफलता हाथ लगी। कोतवाली पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान राजस्थान नंबर की मोटर सायकिल में आ रहे एक दंपत्ति को रोका। जिनके पास रखे बैग की तलाशी लेने पर बैग में झिल्ली में पैक 5 किलो गांजा मिला।

इस मामले में कोतवाली पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट की धारा 8/20 के तहत अपराध कायम कर गांजा तस्करी में पकड़ाये आरोपी दंपत्ति हरियाणा प्रदेश के जिंद जिला के सदर थाना अंतर्गत बरोली निवासी 25 वर्षीय सुखबीर उर्फ नवीन कुमार पिता जगबीर जाट और उसकी पत्नी 21 वर्षीय अंजली उर्फ मनीषा पति सुखबीर उर्फ नवीन कुमार जाट को गिरफ्तार किया है। पुलिस की मानें तो पकड़़ाये गये गांज की अनुमानित कीमत लगभग सवा लाख रूपये है।

मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने की कार्यवाही
गृहमंत्री के निर्देशानुसार रविवार 12 जुलाई को किये गये लॉक डाउन के चलते बालाघाट में शहरी सीमा क्षेत्र में पुलिस द्वारा चेकिंग पाईंट लगाये गये है, कोतवाली थाना उपनिरीक्षक वीरेशसिंह कुशवाह को सूचना मिली थी कि मोटर सायकिल में गांजा तस्कर, गांजा लेकर आ रहे है। जिसके बाद शहर के सरेखा चौक में वाहन चेकिंग को सख्त कर दिया गया था। सुबह लगभग 10 बजे पुलिस को मिली मुखबिर की सूचना के अनुसार एक संदिग्ध मोटर सायकिल पुलिस केा आते हुए दिखाई दी। जिसे पुलिस ने पाईंट पर वाहन को रोककर मोटर सायकिल क्रमांक एचआर 11 सी 9645 में सवार दंपत्ति के पास रखे बैग की तलाशी ली तो उसमें पुलिस को बैग के अंदर झिल्ली में भरकर रखा गया लगभग 5 किलो गांजा मिला है। जिसके बाद पुलिस ने मोटर सायकिल सवार दंपत्ति को हिरासत में लेकर गांजा और मोटर सायकिल को बरामद किया है।
घटनास्थल पर ही की गई पूरी कार्यवाही
इस मामले में खास बात यह रही कि कोतवाली पुलिस ने इस पूरे मामले की कार्यवाही घटनास्थल सरेखा चौक मंे ही की गई। जहां ही पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत पूरी कार्यवाही कर आरोपी दंपत्ति को गिरफ्तार किया गया। पुलिस की मानें तो मानें तो आरोपी जगदलपुर से गांजा लेकर फरीदाबाद की ओर ले जा रहे थे। आरोपी आदतन हो सकते है, जिसकी जांच की जा रही है। 5 किलो गांज के साथ आरोपी दंपत्ति को वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन और दिशा निर्देश में गिरफ्तार करने में कोतवाली थाना प्रभारी विजयसिंह परस्ते, उपनिरीक्षक वीरेशसिंह कुशवाहा, महिला प्रधान आरक्षक सत्यशीला वासनिक, महिला आरक्षक सुषमा चौहान, आरक्षक रवि, आरक्षक चालक नीरज और शरद की भूमिका सराहनीय रही।

इनका कहना है
गृहमंत्री के निर्देशानुसार रविवार 12 जुलाई को संपूर्ण लॉक डाउन के दौरान नगरीय क्षेत्र में सुरक्षा पाईंट लगाये गये थे। थाना उपनिरीक्षक वीरेशसिंह कुशवाहा को मुखबिर से गांजा तस्करी की सूचना मिली थी। इस दौरान किरनापुर मार्ग से एक संदिग्ध वाहन शहर की ओर आते हुए दिखाई दिया। जिसकी तलाशी लेने पर मोटर सायकिल सवार दंपत्ति के पास से पुलिस ने लगभग सवा लाख रूपये कीमत का 5 किलो गांजा बरामद किया है। जिनके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट 8/20 के तहत कार्यवाही कर जांच की जा रही है।
विजयसिंह परस्ते, थाना प्रभारी, कोतवाली थाना