कोरोना के डर ने पिता को बनाया हत्यारा, आपसी विवाद में गई बेटे की जान

nephew-murder-three-including-uncle-and-aunt

बालाघाट/सुनील कोरे

बालाघाट के गढ़ी थाना अंतर्गत ग्राम कुगांव में एक मई को कोरोना के चलते एक पिता ने ही अपने पुत्र की हत्या कर दी। क्वारेंटाईन सेंटर से घर लौटे बेटे को पिता ने घर में घुसने से मना कर दिया। इसपर दोनों में विवाद हुआ और विवाद में पिता ने डंडे से बेटे पर हमला कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई। मामले में गढ़ी पुलिस ने आरोपी भीमा पंचतिलक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच में लिया है। सूत्रो की मानें तो पुलिस ने आरोपी पिता को हिरासत में ले लिया है हालांकि पुलिस ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है।

जानकारी के मुताबिक कुगांव निवासी टेकचंद पंचतिलक कोविड-19 से निपटने किये गये लॉक डाउन के बाद औरंगाबाद से विगत दिनों गढ़ी पहुंचा था, जहां वह क्वारेंटाईन सेंटर में रहने के बाद एक मई को अपने घर कुगांव पहुंचा। इसकी जानकारी जब उसके पिता भीमा पंचतिलक को लगी तो उसने कोरोना बीमारी के भय से अपने बेटे पुत्र टेकचंद को घर में प्रवेश करने से मना करते हुए पहले गांव वालों से पूछ लेने की बात कही। इसपर बेटे ने  मना कर दिया और वह घर में आने लगा। इस लेकर दोनो में विवाद हो गया। इस दौरान बेटे ने पास ही मवेशियो को बांधने के लिए रखे गये खूंटे से अपने  पिता पर हमला कर दिया। इसके बाद पिता ने बेटे के हाथ से बांस का खूंटा छीनकर उसपर हमला बोल दिया जिससे उसकी मौत हो गई। मामले में जानकारी मिलने के बाद गढ़ी पुलिस ने आरोपी पिता भीमा पंचतिलक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।