Hina-Kanwar-said--patwari-leaves-his-high-officials'-brokerage

बालाघाट। इन दिनों मुख्यमंत्री कमलनाथ अफसरों को काम के तरीके बदलने की नसीहत दे रहे है, वही दूसरी तरफ उनके मंत्री-विधायक भी कुछ कम नही है।इसी बीच लांजी से कांग्रेस विधायक और  विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे का बयान सामने आया है, जिसमें वे पटवारियों को हिदायत देते हुई नजर आ रही है। कांवरे ने पटवारियों को दो टूक शब्दों में कहा है जिस दिन पटवारी अपने उच्च अधिकारियों की दलाली करना छोड़ देंगे, उस दिन समस्या अपने आप समाप्त हो जाएगी। हैरानी की बात तो ये है कि कार्यक्रम पटवारियों का ही था, कांवरे के बयान के बाद से ही  पटवारियों में हड़कंप सा मचा हुआ है।वही कांवरे का यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

दरअसल, गुरुवार को कांवरे पटवारियों के जिला स्तरीय सम्मेलन एवं सम्मान सामरोह में बालाघाट पहुंची थी। यहां कावरे ने अपने संबोधन में एक पटवारी का जिक्र करते हुए कहा कि आज ही एक दम्पत्ति पटवारी की शिकायत लेकर आये थे और बताया गया कि वह 25 हजार रूपये की रिश्वत मांग रहे हैं। क्या एक परिवार इतनी बड़ी रकम अपने नामांतरण के लिये दे सकते हैं? यह तय आपको करना हैं। ये मध्यस्थता करना छोड़ दीजिए।वही पटवारियों को हिदायत देते हुए कावंरे ने कहा कि पटवारी और अधिकारियों के बीच मध्यस्थता तो छोटा शब्द है , साफ शब्दों में कहे तो  जिस दिन पटवारी अपने उच्च अधिकारियों की दलाली करना छोड़ देंगे, उस दिन समस्या अपने आप समाप्त हो जाएगी। व्यवस्था में सुधार हो जायेगा।प्रदेश में सरकार बदली हैं, व्यवस्था बदलने में कुछ समय लगेगा। इस दौरान उन्होंने पटवारियों की भर्ती की भी बात कही। कांवरे ने कहा कि रिक्तियों की पूर्ति के लिए पटवारियों की भर्ती की जाएगी।पटवारियों की समस्याएं भी हमने सुना है उसे भी ठीक किया जाएगी।