एम्बुलेंस में प्रसुता ने दिया बेटी को जन्म, जच्चा-बच्चा सुरक्षित

बालाघाट। सुनील कोरे| रविवार दोपहर जिला चिकित्सालय में प्रसव के लाई जा रही एक प्रसुता महिला ने रास्ते में एम्बुलेंस में नवजात बेटी को जन्म दिया। रास्ते में प्रसव पीड़ा होने पर एम्बुलेंस में कार्यरत ईमएटी रेखा भोयर ने महिला के साथ आ रहे महिला रिश्तेदार और आशा कार्यकर्ता के साथ महिला का सुरक्षित प्रसव कराया। महिला ने स्वस्थ्य बच्ची को जन्म दिया है। जिसके बाद एम्बुलेंस पायलेट अशोक धारे ने एम्बुलेंस को अविलंब जिला चिकित्सालय लेकर आया। जहां प्रसुता महिला को भर्ती कराया गया है।
आज 108 एम्बुलेंस को सोनेवानी के पास कुल्पा से एक प्रसुता महिला को प्रसव के लिए जिला चिकित्सालय का कॉल मिला था। जिसके बाद संबंधित क्षेत्र के एम्बुलेंस पायलेट अशोक धारे और ईएमटी रेखा भोयर, एम्बुलेंस लेकर, गांव कुल्पा पहंुचे थे। जहां प्रसुता महिला संदिपा पति नेतलाल इड़पांचे को उसके महिला रिश्तेदारों के साथ लेकर आ रहे थे। इस दौरान ही गांगुलपारा के पास महिला को प्रसव के लिए दर्द उठा। महिला की हालत को देखते हुए वाहन रोककर महिला के परिजनों की मदद से ईएमटी रेखा भोयर ने स्वास्थ्य डिलेवरी कराई। जिसके बाद जच्चा-बच्चा को लेकर जिला चिकित्सालय लाकर प्रसुता वार्ड में भर्ती कराया गया है। बताया जाता है कि महिला ने एक स्वस्थ्य लड़की को जन्म दिया है।
जिले के सबसे बड़ा प्रसुता सेंटर, ट्रामा में आये दिन प्रसुताओं महिलाओं की मौत की खबर के बीच यह नई जिंदगी देने वाली अच्छी खबर है। एम्बुलेंस में ईएमटी रेखा भोयर द्वारा बेटी के सुरक्षित प्रसव के बाद परिजनों ने खुशी जाहिर की है। बताया जाता है कि महिला की यह पहली डिलेवरी थी।
गौरलतब हो जिले में 108 एम्बुलेंस सेवा में कार्यरत पायलेट और ईएमटी, जिले में कॉल मिलने के बाद सातो दिन 24 घंटे की सेवायें दे रहे है। जिसमें सभी इमरजेंसी मामलो में, एम्बुलेंस की सेवायें, लोगों को त्वरित उपचार उपलब्ध करवाने में मददगार बन रही है।