यहां पर लॉक डाउन के दौरान गौवंश प्रेमियों ने किया ट्रको से जा रहे गौवंश का पूजन

बालाघाट, सुनील कोरे

प्रदेश में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए राज्य शासन द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत पूरे प्रदेश में रविवार को लॉक डाउन घोषित किया गया है। जिसमें अतिआवश्यक सेवाओं और कार्यो को छोड़कर बाहर निकलने पर पूर्णतया प्रतिबंध है, बावजूद इसके 2 अगस्त को भाजपा संगठन से जुड़े लोग, धार्मिक संगठन पदाधिकारी, गौसेवक बड़ी संख्या में हनुमान चौक में एकत्रित नजर आये। बताया जाता है कि सभी गौप्रेमी, हाल में ही बहेला थाना अंतर्गत गांवों के जंगलो से बड़ी संख्या में बरामद किये गये गौवंश का पूजन करने हनुमान चौक में एकत्रित हुए थे। यहां सभी गौप्रेमियों ने पुलिस द्वारा बरामद किये गये गौवंश को ट्रको के माध्यम से वारासिवनी गौशाला ले जाते समय हनुमान चौक में गौवंश से भरे ट्रक को रूकवाकर, वाहन में भरे गौवंश को हार पहनाकर उनका पूजन किया। इस दौरान उपस्थित गौप्रेमियों ने ना केवल लॉक डाउन का उल्लंघन किया बल्कि कोरोना से बचाव को लेकर सोशल डिस्टेसिंग का भी उल्लंघन किया। जो तस्वीरें मीडिया तक पहुंची है, उसमें गौप्रेमी सोशल डिस्टेस का खुला उल्लंघन करते नजर आ रहे है।

प्रशासन कर रहा कार्रवाई

एक ओर कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर प्रशासनिक अमला आम लोगों पर लॉक डाउन उल्लंघन और सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं करने पर कार्रवाई कर रहा है, वहीं दूसरी ओर लॉक डाउन के दौरान बड़ी संख्या में गौप्रेमियों के एकत्रित होने और सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन होने के बावजूद प्रशासन जानकारी नहीं होने की बात कह रहा है। जबकि इस मामले में कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष राजा सोनी ने कहा कि भाजपा से जुड़े लोग ही यदि सरकार के लॉक डाउन आदेशों का उल्लंघन कर रहे है तो आम लोगों में इसका गलत संदेश जायेगा। उन्होने इस मामले में प्रशासन से लॉक डाउन उल्लंघन और सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं करने के मामले में कार्यवाही की मांग की है।

गौप्रेमियों ने किया गौवंश का पूजन

हाल ही में बहेला पुलिस द्वारा थाना अंतर्गत टिमकीटोला और अंधियाटोला के जंगल से लगभग 402 मवेशी बरामद किये है। जिन्हें कानूनी प्रक्रिया के बाद पुलिस ने सभी गौवंश को वारासिवनी गौशाला के सुपुर्द कर दिया है। जिसके बाद वारासिवनी गौशाला द्वारा गौवंश को ट्रको के माध्यम से वारासिवनी गौशाला लेकर आ रहे थे। इस दौरान रविवार 2 अगस्त को नगर के हनुमान चौक में भाजपा के पूर्व अध्यक्ष रमेश रंगलानी, डॉ. बी.एम. शरणागत, महेन्द्र सुराना, अभय सेठिया, महेश खजांची, अभय कोचर, विक्रांत साकरे, रितेश अग्रवाल, सुरेन्द्र खेमानी, निशांतसिंह बैस, विजय विधानी सहित काफी संख्या में मौजूद गौप्रेमियो ने हनुमान चौक में गौवंश से भरे ट्रको को रूकवाकर, गौवंश का पूजन किया।

गौसेवकों को बचाने के लिए मंत्री श्री कावरे, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक का धन्यवाद-रमेश रंगलानी

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष रमेश रंगलानी ने कहा कि लांजी का रिसेवाड़ा क्षेत्र गौतस्करी का एक बड़ा अड्डा बन गया था। जिसे ध्वस्त कर पुलिस प्रशासन ने गौवंश बचाने का जो काम किया है वह सराहनीय है। जिले में गौवंश की तस्करी करने वालो के खिलाफ की गई कार्यवाही के लिए मंत्री श्री कावरे, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक धन्यवाद के पात्र है। मंत्री श्री कावरे के निर्देश पर पुलिस ने गुप्त अभियान चलाकर महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में होने वाली गौतस्करी का पर्दाफाश किया है, उससे गौतस्करों के हौंसले पस्त हुए है। इसके साथ ही वह गौसेवक भी बधाई के पात्र है, जिन्होंने रिसेवाड़ा के क्षेत्र में गौवंश तस्करी को पकड़वाने में अपना योगदान दिया। उन्होंने कहा कि बरामद की गई गायो में अभी भी कई गौवंश मिसिंग है और मुख्य आरोपी फरार है लेकिन जिस प्रकार से पुलिस कार्यवाही कर रही है, उससे जल्द ही पुलिस गायों को बरामद करने के साथ ही इसके सरगना को पकड़ने में सफलता अर्जित करेगी, ऐसा विश्वास है।

गौतस्करों पर की जायें कड़ी से कड़ी कार्यवाही-डॉ. शरणागत

हिन्दु धर्म में गाय का एक विशेष महत्व है, हिन्दु गायो की पूजा करते है, ऐसी मान्यता है कि गाय में 84 लाख देवी, देवताओं का वास होता है। उस गाय को कत्लखाने जाने से बचाने में जो भूमिका गौसेवकों ने निभाई है, उसके लिए वह धन्यवाद के पात्र है। गौशाला जा रही गायों के पूजन कार्यक्रम अत्यंत ही भावुक और आनंदित कर देने वाला पल है। मंत्री श्री कावरे की सूझबूझ और प्रशासन एवं पुलिस के सहयोग से गौवंश को जो बचाने का काम किया गया है वह सराहनीय और अतुलनीय है। हमारी मांग है कि पुलिस इस मामले में गौतस्करों के सरगना को ढूंढकर उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें।

अपनी ही सरकार के आदेश की भाजपाई उड़ा रहे माखौल-राजा सोनी

रविवार लॉक डाउन में गौवंश के पूजन के लिए एकत्रित हुए भाजपाईयों को लेकर कांग्रेस कमेटी कार्यकारी अध्यक्ष राजा सोनी ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर भाजपा सरकार ने ही रविवार को लॉक डाउन घोषित किया है और भाजपा नेता ही इसे तोड़ रहे है, इससे आम जनता में अच्छा संदेश नहीं जायेगा। इससे तीज त्यौहारो में लॉक डाउन आम जनता भी बाहर आयेगी। जिससे लॉक डाउन को तोड़ने की परंपरा प्रारंभ हो जायेगी, जो वर्तमान में वैश्विक महामारी के बढ़ते संक्रमण के लिए खतरनाक साबित होगा। कम से कम आम लोगों में वैश्विक महामारी से बचाव के लिए बताई गई सावधानियों का अच्छा संदेश जायें, इसके लिए पार्टी नेताओं और जागरूक नागरिकों को भी नियमों का पालन करने का संदेश देना चाहिये, लेकिन देखने में आया कि गौवंश के पूजन के दौरान सोशल डिस्टेंस का कहीं भी पालन नहीं किया गया। जिस पर प्रशासन को ध्यान देकर कार्यवाही करना चाहिये, अन्यथा लॉक डाउन का जिले में कोई औचित्य नहीं रह जायेगा।

एसडीएम केसी बोपचे ने क्या कहा

मुझे इस तरह की कोई जानकारी नहीं है और यदि जानकारी मिलती है कार्रवाई की जायेगी। लॉक डाउन में प्रशासन अनावश्यक कार्यो से बाहर निकलने वालो पर सख्ती से कार्रवाई कर रहा है और यदि कोई लॉक डाउन का उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जायेगी।