चोर गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार, सात मोटरसाइकिल बरामद

बालाघाट। सुनील कोरे।

कोतवाली पुलिस ने वाहन चोरी मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से चोरी की गई 7 मोटर सायकिल बरामद की है। गिरफ्तार किये गये आरोपी में एक नाबालिक है। कोतवाली पुलिस की मानें तो वाहन चोरी का मास्टरमाईंड लालबर्रा थाना अंतर्गत निलजी निवासी 20 वर्षीय बहादुर उर्फ तरुण पिता बलराम मेश्राम है, जो अपने साथियों के साथ वाहन की चोरी कर उन्हें नागपुर ले जाकर बेचने का काम करता था। बाला घाट में लगातार वाहन चोरी की बढ़ती वारदातों के बाद कोतवाली पुलिस द्वारा तीन वाहन चोरों को गिरफ्तार कर उनसे चोरी किये गये वाहनों को बरामद करने से पुलिस का हौंसला बढ़ा है और पुलिस इसे बड़ी सफलता मान रही है।

नागपुर के अम्बाझरी पुलिस से कोतवाली पुलिस को सूचना मिली थी कि बहादुर उर्फ तरूण मेश्राम को चोरी की तीन मोटर सायकिल के साथ पकड़ा गया है। जिसके बाद कोतवाली पुलिस ने माननीय न्यायालय के आदेश के बाद अम्बाझरी पुलिस द्वारा आरोपी बहादुर उर्फ तरूण मेश्राम को कस्टडी में लेकर बालाघाट लाया गया। जहां न्यायालय में पेश किये जाने के बाद कोतवाली पुलिस ने उसे दो दिन की रिमांड पर लिया था। जिसने पूछताछ में वाहन चोरी की घटना को स्वीकार करते हुए बताया कि उसने साथी अभय उके और नाबालिग के साथ मिलकर वाहन चोरी की घटना को अंजाम दिया था। जिसके बयान के आधार पर पुलिस ने निलजी निवासी अभय उइके और नाबालिग को गिरफ्तार किया। जिनकी निशानदेही पर आरोपियों के रिश्तेदारों के घर से पुलिस ने चोरी की गई 4 मोटर सायकिल को बरामद किया है।

वाहन चोरी की बढ़ती घटनाओं को गंभीरता से लेकर वाहन चोरो को पकड़ने वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में सीएसपी देवेन्द्र यादव के नेतृत्व में कोतवाली थाना प्रभारी विजयसिंह परस्ते, उपनिरीक्षक वीरेशसिंह कुशवाहा, प्रधान आरक्षक भिमेश्वर पारधी, राजेश सनोडिया, आरक्षक शैलेष गौतम, गजेन्द्र माटे, रमेश उके और आरक्षक रवि गौरिया का वाहन चोरी मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से चोरी किये गये वाहनों को बरामद करने में सराहनीय सहयोग रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here