यहां फिर हुई भूगर्भीय हलचल, दहशत में लोग

बड़वानी। मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले के कुछ गांवों में लोग आज भी दहशत में जी रहे हैं| धरती के अंदर हो रही हलचल लोगों के लिए रहस्य बना हुआ है| पिछले कई दिनों से इस तरह के मामले अलग अलग गांवों से सामने आ चुके हैं, जिओलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (जीएसआई) की टीम भी कई बार निरीक्षण कर चुकी है| अंजड़ क्षेत्र के गांव सेगांवा में सोमवार रात से फिर भूगर्भीय हलचल शुरू हुई है। मंगलवार सुबह तेज धमाका सुना गया। इसमें एक पक्के मकान में दरार आने की बात भी बताई जा रही है। 

यहां जीएसआई की टीम तीन बार निरीक्षण कर चुकी है। मंगलवार सुबह 7.26 बजे सेगांवा में तेज भूगर्भीय हलचल हुई। बताया जा रहा है कि धमाके से लोगों के पक्के मकान में बड़ी दरार आ गई। वहीं धमाके की आवाज सुन कई ग्रामीण घरों से बाहर आ गए। इससे पहले जीएसआई की प्राथमिक रिपोर्ट में भूगर्भीय हलचल का कारण अत्यधिक वर्षा को बताया गया था। नर्मदा बचाओ आंदोलन इसे सरदार सरोवर परियोजना का साइड इफेक्ट बता रही है। 

सरदार सरोवर बांध परियोजना के डूब क्षेत्र में डूब से तो नुकसान हो ही रहा है, वहीं डूब क्षेत्र में और इसके बाहर चल रही भूगर्भीय हलचल से ग्रामीण दहशत में हैं। लोग अपने घरों में भी जाने से डर रहे हैं। इससे पहले अगस्त व सितंबर में क्षेत्र के करीब 10 गांवों में लगातार भूगर्भीय हलचल सुने गए। इसे लेकर जीएसआई भोपाल, जबलपुर व नागपुर की टीमों ने निरीक्षण भी कि या। तीन गांवों झोलपिपरी, भागसुर व मंदील में 10 दिन के लिए सिस्मोग्राफिक उपकरण भी लगाए गए थे।