accident in itarsi

बैतूल, वाजिद खान। जिले के ग्राम टेमनी के रहने वाले तीन बाइक सवार युवक को अज्ञात वाहन चालक ने टक्कर मार दी। उनकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। घर से काम पर जाने का कह कर गए तीन युवकों की आज जब एक साथ लाशें उठी तो माहौल गमगीन हो गया। हादसे का शिकार हुए युवक बैतूल के टेमनी गांव के रहने वाले थे। जिन्हें देर रात नेशनल हाइवे(National Highway) पर अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। परिजन इन युवकों को देर शाम से ढूंढ रहे थे। लेकिन, उन्हें वे जिंदा नहीं बल्कि मौत का शिकार होकर मिले। गांव टेमनी निवासी युवक राजकुमार पिता अशोक धुर्वे-22वर्ष ,राजेश पिता गणेश उईके -29 वर्ष मनोज पिता ललजी ककोडिया -22 वर्ष कल घर से काम पर जाने का कहकर निकले थे।

ये भी पढ़े- Women Trafficking: मध्यप्रदेश से 2 महिला की तस्करी कर ले गए राजस्थान, पुलिस ने किया गिरोह का पर्दाफाश

मृतक के भाई कमल के मुताबिक कंस्ट्रक्शन वर्क में सेंट्रिंग बांधने वाले तीनों युवक जब देर शाम तक घर नहीं पहुंचे तो परिजनों ने उन्हें ढूंढना शुरू किया। ये युवक कल मुलताई की तरफ गए थे। जब इस इलाके के थाना साईंखेड़ा में संपर्क किया गया तो पता चला कि रात करीब 12 बजे तीन बाइक सवारों को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी है। जिनकी लाश हाइवे पर पड़ी थी। जिसे जिला अस्पताल(Hospital) भेजा गया है। जब परिजनों ने तस्दीक की तो तीनों युवकों की लाश जिला अस्पताल (Hospital) की मरचुरी(Mortuary) में मिली। जहां उनकी पहचान होने के बाद पुलिस ने शव परीक्षण किया और शव परिजनों को सौंप दिया है। यह भी माना जा रहा है कि तीनों कल घर से निकले तो काम पर जाने का कहकर गए थे । लेकिन वे साइट न जाकर शिवरात्रि मेला पहुंच गए थे। जहां से रात को लौटते समय हादसे का शिकार हो गए। एक ही गांव के इन तीनो युवकों की मौत से गांव में भी सन्नाटा पसरा हुआ है।

ये भी पढ़े- ऑपरेशन के बाद महिला की मौत के मामले में डॉक्टरों की चार सदस्यीय समिति ने दिया फैसला, पंजीयन निरस्त की सिफारिश