मिड डे मील का खाना खाने के बाद 31 बच्चे पहुंचे अस्पताल

बैतूल। मध्य प्रदेश के मुलताई जिले के एक स्कूल में मिड डे मील का खाना खाने से 31 बच्चों की तबीयत खराब हो गई। तबीयत ज्यादा बिगडऩे पर स्कूल प्रबंधन ने बच्चों को ईलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया। तीन बच्चों की हालत गंभीर है। अन्य सभी बच्चे सामान्य हैं। घटना के बाद कलेक्टर ने स्व सहायता समूह को हटाने और एसडीएम को जांच के आदेश दिए हैं। 

मामला मुलताई तहसील इलाके के ब्रह्मनवाड़ा का है। यहां सरकारी नवीन माध्यमिक शाला में गुरुवार को बच्चों को मिड-डे मील खाने में कढ़ी-चावल परोसा गया था। खाना खाने के करीब एक घंटे बाद बच्चों का मन मचलने लगा और थोड़ी देर में बच्चों को उल्टी और दस्त शुरू हो गई। जैसे ही प्रधानाचार्य को बच्चों की तबीयत खराब होने की जानकारी लगी वे तुरंत 31 बच्चों को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। अस्पताल पहुंचने पर तुरंत बच्चों का इलाज शुरू किया गया। सूचना के बाद जिला शिक्षा केन्द्र के परियोजना समन्वयक आईडी बोडख़े ने भी अस्पताल पहुंचे और बच्चों का हाल-चाल जाना। ईलाज के बाद बच्चों की स्थिति सामान्य होने पर उन्हें छुट्टी दे दी गई। तीन बच्चों की हालत अधिक खराब होने के कारण उनका ईलाज जारी है। शाला में करीब 62 छात्र अध्ययनरत है जिसमें से 60 छात्र गुरुवार को स्कूल पहुंचे थे और सभी ने मध्यान्ह भोजन किया था। घटना के बाद कलेक्टर ने स्व सहायता समूह को हटाने और एसडीएम मुलताई सीएल चनाप को जांच के निर्देश दिए हैं।