बैतूल में 55 फीट ऊंचा रावण और 50 फीटे के कुंभकरण का होगा दहन

कोविड-19 के दौरान यह साइज रावण की 35 और कुंभकरण की 30 फीट रखी गई थी।

बैतूल, वाजिद खान। बैतूल (betul) में दशहरा पर 55 फीट ऊंचे रावण और 50 फीट ऊंचे कुंभकरण के पुतलों का दहन किया जाएगा। बैतूल के लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में बनकर तैयार हो गए हैं दशहरा को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं स्टेडियम में पुतला दहन के साथ ही आतिशबाजी की जाएगी।

यह भी पढ़े…गरबा प्रांगण में पत्थरबाजी करने वाले आरोपियों के खिलाफ प्रशासन ने की बड़ी कार्रवाई, पढ़े पूरी खबर

बता दें कि बैतूल में श्रीकृष्ण पंजाब सेवा समिति के द्वारा 1957 में दशहरा मनाने की परंपरा शुरू की थी। पहले छोटे-छोटे पुतले बनाए जाते थे। धीरे-धीरे इन पुतलों का आकार बड़ा किया जाने लगा और इस साल लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में रावण-कुंभकरण के जो पुतले तैयार किए गए हैं उनकी ऊंचाई 55 और 50 फीट रखी गई है।

यह भी पढ़े…बालों के लिए वरदान है सरसों का तेल, इसके साथ मिलाकर लगाएं ये 5 चीजें, हेयर प्रॉब्लम्स की होगी छुट्टी

बताया जा रहा है कि कोविड-19 के दौरान यह साइज रावण की 35 और कुंभकरण की 30 फीट रखी गई थी। पिछले साल रावण 50 और कुंभकरण 45 फीट ऊंचे बनाए गए है। पुतले बनाने की शुरूवात आजाद वार्ड के मुस्लिम परिवार के हसीब खान की माँ ने की थी। बाद में उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं होने पर उनके बेटे हसीब ने पुतले बनाने की शुरूवात की। लंबे समय तक इस परिवार ने रावण और कुंभकरण के पुतले बनाए। कुछ सालों से पुतले बनाने का काम समिति ने भोपाल की रिंकू बसंल और उनकी टीम को दे दिया है जो बैतूल आकर पुतले तैयार करते है।