अंधे कत्ल का हुआ खुलासा, मृतक की पत्नी और बेटे ने ही की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

बैतूल, वाजिद खान

जिले में अंधे कत्ल का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है । खुलासे में सामने आया है कि मृतक की पत्नी और नाबालिग बेटे ने ही उसके हत्या की थी और पुलिस को बताया था कि तीन नकाबपोश ने उसकी हत्या की ।

बैतूल के चोपना थाना क्षेत्र के विष्णुपुर गांव के चांदनी दवाखाना चलाने वाले महादेव हलदर का उनके ही घर में एक जून की दोपहर में सोते समय गैंची कुल्हाड़ी और वसूला से जघन्य हत्या कर दी थी ।मृतक महादेव हलदर की बेटी ने पुलिस को सूचना दी कि तीन नकाबपोश आरोपियों ने घर में घुस कर दिनदहाडे उसके पिता को सोते हुये गेती , कुल्हाडी एवं बसूले से मार कर हत्या कर दी एवं बीच बचाव में स्वयं पर भी जानलेवा हमला होना बताया था, जिस पर थाना चोपना में विभिन्न धाराओं के तहत अज्ञात आरोपियों के विरुध्द हत्या प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया  था ।

पुलिस ने जांच शुरू की तो मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर एवं घर के ही हथियारों से मृतक की हत्या होने से ऑल गांव वालो द्वारा घटना दिनांक को गांव मे अन्य किसी बाहरी ब्यक्ति के आने की पुष्टि नहीं करने से पुलिस का शक घर वालो पर ही गहराने लगा था, जो पुलिस द्वारा घर वालों से जब सख्ती से पूछताछ करने पर मृतक की पत्नि ने पुलिस को बताया कि उसका पति महादेव हलदर उसे और बच्चो को आये दिन छोटी छोटी बात पर मारता रहता था।

जो घटना के एक दिन पूर्व भी पति महादेव द्वारा आवाज देने पर पत्नि द्वारा सुन नही पाने को लेकर मारपीट की गई, जिसको लेकर पत्नि ने सोचा के मैं ऐसे कब तक पिटती रहूंगी, मैं भी इसे मारूगी और उसने एक जून को जब सब घर बाले खाना खाकर सो रहे थे तभी दूसरे कमरे मे रखे हथियार गेंती, कुल्हाडी , दाव एवं बसूला लेकर आ गई और गेंती से सोते हुये पति पर हमला कर दिया । जिससे पति चिल्लाकर उठकर बैठ गया तभी चिल्लाने की आवाज सुनकर बडा लडका जाग गया और मां के कहने पर बगल मे रखी कुल्हाडी से सिर मे मार दिया ।

इस दौरान बडी बेटी उठी और देखा कि मम्मी और भाई पिता को मार रहे है तो उसने जाकर पिता को बचाने की कोशिश की तो उसे भी हाथ मे चोट आई । मॉ बेटे ने बाप को तब तक मारा जब तक वो जान से नही मर गया । उसके बाद अन्य तीन बच्चो ने उठकर मॉ से पूछा कि क्या हो गया पापा को किसने मारा तो मॉ ने बताया के तीन लोग मुंह से गमछा बांध कर आये थे और पापा को मार कर चले गये ।

घटना को अंजाम देने वाली आरोपी पत्नि विनिता हलदर को गिरफ्तार किया गया और नाबालिग को अभिरक्षा में लिया गया । विनीता की महादेव से बीस साल पहले शादी हुई थी और पांच बच्चे है । घटना के पीछे पत्नी का कहना है कि उसके पति के दो तीन महिलाओं से अवैध संबंध थे और वो उनको घर भी लाता था लेकिन उसने कभी विरोध नहीं किया ।

एसडीओपी सारणी  अभय राम चौधरी का कहना है कि 1 जून को धारदार हथियारों से महादेव हलदर की हत्या की गई थी। इस अंधे कत्ल में जो हथियार उपयोग किए गए थे दो उसी घर में रखे हुए थे जिनमें गैंची कुल्हाड़ी और वसूला था। आरोपियों ने गुमराह किया था कि तीन नकाबपोश ने आकर हत्या की जब इस मामले की जांच की गई तो पता चला कि महादेव हलदर के घर पर रोज झगड़ा होता था और वह पत्नी और बच्चों के साथ मारपीट करता था इसी को लेकर पत्नी और उसके नाबालिग बेटे ने मिलकर उसकी हत्या कर दी।

वाजिद खान…….बैतू