बैतूल, वाजिद खान। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल (Betul) में शहरी क्षेत्र के लिंक रोड इलाके में बुधवार को एक दर्दनाक हादसा हो गया। जहां ट्रक से मार्बल की सिल्लियां उतारते समय पत्थर की चपेट में आने से मजदूर शंकर उइके की मौत हो गयी। हादसा एक डॉक्टर के मकान निर्माण के लिए लाए गए मार्बल को उतारते समय हुआ। बताया जा रहा है कि जयपुर से मार्बल भरकर आये ट्रक को खाली करने के दौरान शंकर उइके अन्य साथी मजदूर के साथ सिल्लियों को उतारने की प्रक्रिया में जुटे थे। इसी दौरान  सिल्लियां मजदूर शंकर की तरफ पलट गई। जिसमें सारा वजन शंकर के गले पर आ गया। जिससे सांस रुकने से शंकर की मौके पर ही मौत हो गयी। बाद में उसे बड़ी मशक्कत के बाद निकाला गया।

यह भी पढ़ें…Dabra : तहसीलदार ने दिखाई मानवता, बीमार युवक को भेजा इलाज कराने, स्वयं से दी आर्थिक सहायता

हादसे की जनकारी देते हुए साथी मजदूर कलीराम ने बताया कि जिस समय सिल्लियां उतारी जा रही थी। ट्रक खड़ा हुआ था। हम सभी मार्बल उतारने में व्यस्त थे। अचानक सिल्लियां शंकर की तरफ पलट गई।उस समय वह मार्बल के तरफ बीचोबीच अकेला था। अगर वह तुरंत बैठ जाता तो उसकी जान नही जाती। पुलिस का कहना है कि यह मकान सोनोग्राफी सेंटर का संचालन करने वाले डॉ प्रीतम सिंह का बताया जा रहा है।

आपको बता दे कि उतारे जा रहे मार्बल की एक सिल्ली का वजन करीब दो क्विंटल होता है। जबकि मजदूर के ऊपर इतने वजन के 20 से 30 पत्थर पलट गए थे। हालांकि इस मामले में यह भी बताया जा रहा है कि जिस समय हादसा हुआ ट्रक पीछे या आगे किया जा रहा था। जिसके कारण मार्बल पलट गए। एसडीओपी नितेश पटेल ने बताया कि इस मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।