MP : यहां नतीजों से पहले प्रशासन ने लगाई धारा 144, इसके पीछे ये है वजह

betul-tiger-terror-in-sarni-residential-areas-Section-144-applicable

बैतूल/सारणी।

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले के सारणी में नतीजों से पहले ही एसडीएम ने धारा 144  लगा दी है। इसका कारण विवाद नही बल्कि एक बाघ है।  खबर है कि सारणी में एक बाघ ने आतंक मचा कर रखा है, जिसके कारण लोग चार दिन से दशहत में है। बाघ का शहरी इलाके में मूवमेंट देखा गया है।बाघ शहरी इलाकों में वाहनों की आवाजाही के बीच नज़र आया। लेकिन अब तक उसे पकड़ने में वन विभाग नाकाम रहा है।बुधवार को बाघ रेस्क्यू का मेगा ऑपरेशन होने की उम्मीद है। 

मामला सारणी के दमुआ रोड का है।जहां चार दिन से शहर में बाघ के मूवमेंट से लोग दहशत में हैं, लेकिन न तो सतपुड़ा टाइगर रिजर्व की टीम इसे पकड़ पा रही है न वन विभाग की। जहां रेस्क्यू चल रहा है, बाघ उससे उलट शहर की ओर भाग रहा है।अब  वन विभाग की ओर से टाइगर का रेस्क्यू करने के लिए एसटीआर होशंगाबाद और कान्हा राष्ट्रीय उद्यान मंडला से हाथियों के दल बुलवाए हैं। बाघ के पकड़े जाने तक आनन-फानन में मुख्य बाजार क्षेत्र शॉपिंग सेंटर खाली कराया गया है। अब बाघ पावर प्लांट के भीतर है। शाहपुर एसडीएम एसके भंडारी ने सारनी नपा क्षेत्र में 144 धारा लागू कर दी है । वन विभाग के 300 अधिकारी और कर्मचारी सारणी में मौजूद रहकर बाघ की लोकेशन ट्रेस करने और उसे सुरक्ष्ति जंगल की ओर खदेड़ने की कवायद में जुटे हैं।बुधवार को बाघ रेस्क्यू का मेगा ऑपरेशन होने की उम्मीद है।