बैतूल का एकमात्र कोरोना मरीज हुआ ठीक, अस्पताल से फूल और गीतों के साथ हुई विदाई

बैतूल/वाजिद खान

प्रदेश के बैतूल (Baitul) में मिले एकमात्र कोरोना पॉजिटिव (corona positive) की पांच सेम्पल रिपोर्ट (report) में से तीन सेम्पल की रिपोर्ट निगेटिव (negetive) आने पर शनिवार को उसे डिस्चार्ज कर दिया गया । कोरोना वार्ड से डिस्चार्ज होने के समय डॉक्टर नर्स और सभी स्टाफ ने तालिया बजाकर (clapping), गाना गाकर (singing) और गुलदस्ता देकर ठीक हुए मरीज का मनोबल बढ़ाकर उसे विदाई दी।

बैतूल जिले के भैंसदेही निवासी एकमात्र कोरोना के कोरोना पॉजिटिव मिले थे जिनकी 6 अप्रैल को पहली पॉजिटिव रिपोर्ट (positive report) आई थी। वो 29 मार्च को तबलीगी जमात नागपुर (nagpur) गया था और वहां से 31 मार्च को वापस आया था 4 अप्रैल को उसका सैंपल लिया गया था और 6 अप्रैल को उसकी पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी जिसके बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भैसदेही के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था। उसके बाद 27 अप्रैल की रात में उसे बैतूल जिला अस्पताल के कोरोना वार्ड में शिफ्ट किया गया था । सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा का कहना है कि जिले के इस एकमात्र कोरोना पॉजिटिव (corona positive) मरीज की तीसरी ,चौथी और पांचवी रिपोर्ट दोनों ही नेगेटिव आई है, इसलिए इसे जिला चिकित्सालय से डिस्चार्ज किया है। लेकिन उन्हें अभी 14 दिन अपने निवास पर होम क्वारंटाइन की स्थिति में रहना पड़ेगा। मरीज के साथ-साथ परिजनों को भी समझाइश दी गई है कि होम क्वारंटाइन अवधि के दौरान यदि मरीज को किसी भी प्रकार की कोई चिकित्सीय समस्या होती है तो तत्काल इसकी जानकारी स्वास्थ्य अधिकारियों को दी जाए, ताकि उसके संबंध में पुन: आवश्यक जांच की जा सके। अस्पताल से जब ठीक हुए मरीज को को डिस्चार्ज किया गया तो सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों ने ताली बजाकर उसे शुभकामनाएं प्रदान करते हुए उसके घर रवाना किया। भैसदेही गांव पहुचंने पर लोगो ने एम्बुलेंस पर भी फूल बरसाए ।