केबीसी के नाम पर 47 लाख की ठगी, अमिताभ के दस्तखत वाला चेक भी भेजा

वाजिद खान/बैतूल।  बैतूल में सोनी टीवी के शो कौन बनेगा करोड़पति (केबीसी) में 35 लाख रुपए लाॅटरी खुलने का झांसा देकर शातिर बदमाशों ने एक युवक को ऐसा बेवकूफ बनाया कि वह 47 लाख रुपए गवां बैठा। अब हाल यह है कि उसका बैंक खाता खाली पड़ा है और उसकी बहन की शादी के लिए भी पैसे नहीं है। काफी समय बाद ठगे जाने का एहसास होने के बाद उसने सोमवार को एसपी आफिस पहुंच कर शिकायत की।

रानीपुर थाना क्षेत्र के लिमढाना निवासी हरी पिता सुम्मी चौहान ने बताया कि उसे 10 फरवरी को वाट्सअप काल आया और बताया गया कि केबीसी में उसकी 25 लाख रुपये की लॉटरी खुली है। इसके लिए उसे 8100 रुपए जमा करने को कहा गया। यह राशि जमा करने पर कंपनी के सुपरवाइजर से बात कराई गई जिसने कहा कि 1 हजार रुपए प्रति एक लाख की राशि पर कमीशन की राशि जमा करना होगा। इसके बाद उसका खाता इंटरनेशनल करवा कर उससे 4 देशों के अलग अलग खातों में 21-21 हजार रुपए की राशि जमा करवाई गई। इतना होने के बाद कहा गया कि 25 लाख रुपए का 4.50 लाख कमीशन जमा करना होगा। राहुल ने यह राशि भी जमा कर दी। इतना होने के बाद कथित रूप से कंपनी के एमडी का 16 फरवरी को फोन आता है कि पहले के दोनों कर्मचारियों ने तुमसे धोखाधड़ी की है। कमीशन 2 लाख होता है, लेकिन उन्होंने 3.50 लाख रुपये ले लिए और वह भी गलत खाते में जमा करवाए गए जिससे वह कंपनी के खाते में जमा नहीं हुए। एमडी ने यह भी बताया कि लॉटरी 25 की नहीं बल्कि 35 लाख की लगी है। इसके बाद एमडी ने राहुल से 2.50 लाख रुपये और जमा करवाए। यह राशि देने के बाद ठगों ने उसे इन्कम टैक्स का फर्जी सर्टिफिकेट भेजा और 3.50 लाख रुपए और जमा करवाए। इसके बाद राहुल को बताया जाता है कि 35 लाख की लॉटरी के साथ 45 लाख की टोयोटा गाड़ी भी दी जा रही है। इसके लिए उससे 5 लाख 26 हजार रुपए और डलवाए गए। ठगों ने इसके बाद राहुल के खाते से खुद ही राशि ट्रांसफर कर ली। इस तरह राहुल को 47 लाख की चपत लगा दी। इतना ही नहीं, ठगों ने उसे अमिताभ बच्चन के फर्जी हस्ताक्षर वाला चैक भी भेजा था।

दो दिन पहले वह जब बहन की शादी के लिए रुपए निकालने बैंक पहुंचा तब पता चला कि उसका बैंक खाता खाली हो चुका है। इसके बाद उसने फोन करके राशि वापस करने को कहा तो उससे फिर 90 हजार रुपए डालने के बाद राशि वापस ट्रांसफर करने की बात कही गई। इसके बाद कहीं उसे समझ आया कि वह ठगी का शिकार हो चुका है। उसने सोमवार को एसपी ऑफिस पहुंच कर मामले की शिकायत की। राहुल अभी कॉलेज की पढ़ाई कर रहा है और यह पैसे उसके पिता के थे जो कि वेकोलि खदान में नौकरी करते थे। उन्हें रिटायरमेंट के बाद यह राशि मिली थी। पिता के खाते से ही राहुल सारा लेन-देन कर रहा था। राहुल की बहन की शादी होने वाली थी और पैसा उसके लिए रखा । पुलिस अब इस मामले में साइबर सेल की टीम के माध्यम से आरोपियों की तलाश में जुट गई है ।

केबीसी के नाम पर 47 लाख की ठगी, अमिताभ के दस्तखत वाला चेक भी भेजा