कोरोना के प्रति जागरूकता अभियान, ग्रामीणों को बताए मास्क और डिस्टेंसिंग के फायदे

बैतूल, वाजिद खान।  गांवों के लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने के लिये स्वयं सेवी संस्था द्वारा सराहनीय पहल की गई है। प्रदीपन संस्था बोरगांव, जिला बैतूल ने न्यू एजुकेशन ग्रुप फाउन्डेशन फॉर इनोवेशन एंड रिसर्च इन एजुकेशन नई दिल्ली के सहयोग से आदिवासी अंचल ब्लॉक भीमपुर के दुर्गम क्षेत्र में बसे 50 गांवों में जागरूकता अभियान चलाया।

प्रदीपन संस्था के कार्यकर्ता संस्था प्रमुख के नेतृत्व में गांव गांव जाकर कोरोना महामारी  संक्रमण से बचाव के लिए सतर्क करने ग्रामीणों को कोरोना महामारी के लक्षण, फैलाव की प्रक्रिया और बचाव के उपाय बताए। इसके लिए गावों में बैठक, स्लोगन लेखन, अनाउंसमेंट के माध्यम से जागरूक करने का कार्य किया जा रहा है। साथ ही ग्राम स्वास्थ्य कैंप का आय़ोजन भी स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा किया जा रहा है और लोगों का चैकअप भी हो रहा है। अगर किसी को सर्दी जुकाम खांसी और सांस लेने में तकलीफ हो तो तत्काल सरकारी अस्पताल में जाकर इलाज कराने हेतु परामर्श दिया जा रहा है। ग्रामीणों को यह भी समझाईश दी जा रही है कि कोरोना से डरे नहीं, मुकाबला करें और सावधानी बरतें। मुंह नाक को अच्छे से फेस मास्क से ढंके, बार बार साबुन से हाथ धोएं। परिवार में विशेष रूप से वृद्धजनों और बच्चों का ध्यान रखें। सर्दी जुकाम और खांसी से बचने के लिऐ अदरक,  गुड़, हल्दी, लौंग, तुलसी का काढ़ा बनाकर पीने का भी सुझाव दिया गया। प्रदीपन के कार्यकर्ताओं ने बताया कि संकट के घंड़ी में सरकार द्वारा टोल फ्री नम्बर 1075,104,,07552704201,,100,181,1098 108 जैसे नम्बरों पर संपर्क किया जा सकता है।