ताप्ती नदी में भाई-बहन की डूबने से मौत, गांव में पसरा सन्नाटा, सूचना के बाद भी नही पहुंची पुलिस

सिंगरौली

बैतूल

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में बुधवार को बड़ा हादसा हो गया । यहां ताप्ती नदी में डूबने से भाई-बहन की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि हादसा नहाने के दौरान हुआ। घटना झल्लार थाना के चूनालोहमा ग्राम पंचायत के मोहारढाना गांव की है जो कि ताप्ती नदी किनारे बसा है।इस हादसे से गांव में मातम पसरा है। बुधवार को मतदान होने के कारण पुलिस बल पोलिंग बूथों पर लगा था, जिस कारण पुलिस बल यहां नहीं पहुंच सका। ऐसे में ग्रामीणों ने ही दोनों के शवों को बाहर निकाला।

जानकारी के अनुसार,  बुधवार को जब सारा गांव चुनावी सरगर्मियों में मशगूल था, उसी समय मोहारढाना गांव के बलवान पिता दशरथ उइके (15) और उसकी बहन रामकला उइके (14) रोजाना की तरह ताप्ती नदी में नहाने के लिए गए थे। नहाते समय दोनों गहरे पानी में चले गए और डूबने से दोनों की मौत हो गई। इनके पिता हेमराज उइके किसी कार्य से चीरापाटला गांव गए थे। उन्हें जैसे ही पता चला तो वे तत्काल मोहारढाना वापस आए।दोनों बच्चे जब घर नहीं पहुंचे तो परिजन और ग्रामीणों ने उनकी तलाश शुरू कर दी। वह इन्हे तलाशते हुए नदी पहुंचे, रात में इनके डूबने की जानकारी लगी। इसके बाद उन्होंने दोनों को निकाला। यहां ग्रामीणों ने नदी से दोनों शव निकाल लिए हैं। घटना की जानकारी झल्लार पुलिस को दे दी गई है, लेकिन रात्रि 7 बजे तक पुलिस मौके पर नहीं पहुंच सकी है।इधर पुलिस चुनावी ड्यूटी में व्यस्त होने के कारण मौके पर नहीं पहुंच सकी। सगे भाई-बहन की इस तरह अचानक मृत्यु होने से गांव में मातम का माहौल है।