बैतूल में आदिवासी युवक से मारपीट के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

मध्य प्रदेश आदिवासी कांग्रेस और जिला कांग्रेस बैतूल ने पुलिस अधीक्षक को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा है। कांग्रेसियों ने ज्ञापन के माध्यम से राज्यपाल से मांग की है कि आदिवासी युवक राज उइके के साथ में मारपीट करने वाले युवक चंचल राजपूत के घर पर बुलडोजर चलाया जाए। कांग्रेस नेताओं ने मामले में धाराएं बढ़ाने और सख्त कार्यवाही की मांग की है।

arrest

Betul News : मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में आदिवासी युवक की बेरहमी से पिटाई के बाद वीडियो वायरल करने का मामला तूल पकड़ते जा रहा है। आज मामले को लेकर मध्य प्रदेश आदिवासी कांग्रेस और जिला कांग्रेस बैतूल ने पुलिस अधीक्षक को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा है। कांग्रेसियों ने ज्ञापन के माध्यम से राज्यपाल से मांग की है कि आदिवासी युवक राज उइके के साथ में मारपीट करने वाले युवक चंचल राजपूत के घर पर बुलडोजर चलाया जाए। वहीं विभिन्न धाराओं में उसके खिलाफ मामला दर्ज किया जाए।

आदिवासी युवक पिटाई मामले में कांग्रेस ने सौंपा ज्ञापन

आदिवासी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामू टेकाम ने बताया कि आदिवासी युवक राज उइके के साथ बैतूल में अपहरण कर बजरंग दल के लोगों ने बेरहमी से मारपीट की गई और उसे जान से मारने की धमकी भी दी गई। आरोपियों ने आदिवासी युवक की पिटाई का वीडियो भी वायरल किया है। मध्यप्रदेश में भाजपा के राज में आदिवासियों के साथ लगातार घटनाएं हो रही है। राज उइके की पिटाई करने वाले आरोपी चंचल राजपूत के घर पर बुलडोजर चलाया जाए,ताकि आदिवासियों को विश्वास हो सकें कि भाजपा सरकार उनके साथ है। इस मामले में पिटाई करने वाले आरोपी चंचल राजपूत की मानें तो पहले उसके साथ राज उइके और उसके साथियों ने मारपीट की थी जिसके बाद यह घटना सामने आई है। इस मामले में पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी का कहना है कि मामले में एफआईआर दर्ज कर आरोपियों चंचल राजपूत और एक सहयोगी की गिरफ्तारी की जा चुकी है। कांग्रेसी द्वारा की जा रही मांग को लेकर आगे कार्रवाई की जाएगी।

क्या है पूरा मामला

कोतवाली टीआई आशीष सिंह पंवार ने बताया कि रविवार को पीडि़त राज उइके उम्र 22 साल निवासी खंजनपुर दादाजी मंदिर के पास ने शिकायत की थी कि चंचल सिंह राजपूत, डेन एवं चंदन सरदार के द्वारा उसका रास्ता रोककर सुभाष स्कूल के पास से अपहरण कर उसे स्कॉर्पियो पर उठाया गया और लल्ली चौक के पास एक पान की दुकान के सामने शनिवार की देर रात पिटाई की। पुलिस ने इस मामले में तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 323, 506, 34, 341, 365 और एससी, एसटी एक्ट के तहत मामला कायम कर आरोपी चंचल सिंह राजपूत एवं चंदन सरदार को गिरफ्तार कर आज न्यायालय में पेश किया है। आरोपी चंचल सिंह राजपूत बजरंग का पदाधिकारी है।

betul news

betul news

टीआई आशीष सिंह पंवार ने बताया कि 8 फरवरी को चंचल सिंह राजपूत निवासी रातामाटी ने कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई थी कि बस स्टैण्ड के पास आरोपी गुल्लू चित्रार, अंकित चित्रार, नंदी झरबड़े एवं नावेद खान के द्वारा उसके साथ मारपीट की गई है। इस मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 323, 506, 34 का मामला दर्ज कर जांच शुरू की। इस मामले में भी गुल्लू चित्रार एवं नंदी झरबड़े को न्यायालय में उपस्थित होने हेतु धारा 41 का सूचना पत्र तामिल कराया गया है। अन्य दो आरोपी अंकित चित्रार और नावेद खान घटना के दिन से फरार हैं जिसके कारण उन्हें सूचना पत्र तामिल नहीं कराया गया।

कांग्रेस नेताओं ने एसपी से धाराएं बढ़ाने की मांग

आदिवासी युवक की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस भी इस मामले में सामने आई है। आज एसपी सिद्धार्थ चौधरी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में बताया गया है कि आदिवासी युवक राज उइके का कुछ व्यक्तियों के द्वारा अपहरण कर उसके साथ मारपीट की गई और इसका वीडियो बनाया गया। जिसमें जातिगत गाली भी दी गई। कांग्रेस नेताओं ने मामले में धाराएं बढ़ाने और सख्त कार्यवाही की मांग की है।
बैतूल से वाजिद खान की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News