मोबाइल पर बात करने से रोकना पड़ा महंगा, नाबालिग बेटी ने दोस्तों के साथ मिलकर कर दी पिता की हत्या

म्रतक द्वारा अपनी दत्तक पुत्री को दोस्तो के साथ घूमने व मोबाइल पर बात करने के लिए मना करने की बात को लेकर इतना गुस्सा हुई दत्तक पुत्री ने दोस्तो के साथ मिलकर श्री राम की हत्या कर दी|

बैतूल, वाजिद खान| मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) के बैतूल (Betul) से लगे सारणी से सनसनीखेज मामला सामना आया जहाँ  दो दिन पहले सारणी के पाथाखेड़ा के वार्ड क्रमांक 22 में एक घर से 45 वर्षीय श्रीराम हुरमाडे का तीन दिन पुराना शव पुलिस ने बरामद किया था| मृतक का पोस्टमार्टम कराने पर पता चला कि श्रीराम की हत्या की गई थी |

म्रतक द्वारा अपनी दत्तक पुत्री को दोस्तो के साथ घूमने व मोबाइल पर बात करने के लिए मना करने की बात को लेकर इतना गुस्सा हुई दत्तक पुत्री ने दोस्तो के साथ मिलकर श्री राम की हत्या कर दी| एसपी सीमाला प्रसाद व एडिशनल एसपी श्रद्धा जोशी ने घटना को गम्भीरता से लिया और सारणी पुलिस को निर्देश दिए जिसपर एसडीओपी के निर्देशन में सारणी टी आई महेंद्र सिंह चौहान के मार्गदर्शन में टीम बनाकर कार्यवाही की गई ।

सारणी एसडीओपी अभयराम चौधरी  ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि मृतक के घर से बदबू फैल रही थी मोहल्ले वालों की शिकायत पर श्रीराम के घर तलाशी लेने पर वँहा श्रीराम का शव मिला था और उसकी नाबालिग दत्तक पुत्री व एक युवक को मौके से पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया| घर से मृतक की दत्तक पुत्री व अनवर खान आजाद नगर पाथाखेड़ा,शिखर महोबे गणेश कालोनी आमला, अनिल सोनारिया पाथाखेडा को शक के आधार पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था पूछताछ में आरोपियों ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि मृतक श्रीराम अपनी दत्तक पुत्री को दोस्तो के साथ घूमने व मोबाइल पर बात करने के लिए मना करता था, इसी बात को लेकर चारों ने मिलकर श्रीराम की हत्या कर घर के पीछे बनी टपरिया में छिपा दिया था|  पुलिस ने आरोपियों पर अपराध क्रमांक 32/2021 धारा302 के तहत मामला दर्ज किया है।