VIDEO VIRAL: डिप्टी रेंजर का कारनामा, 71 साल के बुजुर्ग से लगवाई उठक-बैठक

बैतूल।वाजिद खान।
लाकडाउन (lock down)का पालन करवा रहे सिस्टम की कई उजली तस्वीरे अब तक सुर्खियां बनती रही है।लेकिन इसकी एक बदरंग तस्वीर बैतूल(betul) से सामने आई है।जहां एक 71 साल के बूढ़े को भी व्यवस्था बनाने वाले डिप्टी रेंजर(Deputy ranger) ने नही छोड़ा और उससे उठक बैठक लगवा डाली। जो बूढ़ा ठीक से चलना तो दूर बैठ भी नही पाता उसे दी गयी इस सजा की यहाँ खूब किरकिरी हो रही है। बूढ़े का गुनाह सिर्फ इतना था कि उसने अपना पेट पालने के लिए सब्जी की दुकान लगा ली थी।

वायरल(viral) हो रही यह तस्वीर बैतूल के कोसमी इलाके की है। यहां 71 साल के  गजन बरकड़े नाम के बुजुर्ग ने सड़क के किनारे सब्जी की दुकान लगा ली थी। आमतौर पर रविवार को चूकि साप्ताहिक बाजार का दिन होता है।बूढ़े ने दुकान देर शाम तक लगाए रखी। यह नगरपालिका के अमले को रास नही आया। लाकडाउन में शाम पांच बजे के बाद दुकानें बंद कराने निकले अमले ने बूढ़े की क्लास लगा दी।पहले तो उसे खूब डांटा फटकारा गया और फिर इसकी सजा बतौर उठक बैठक लगवा दी गयी।इस नजारे को जिसने भी देखा उसे वृद्ध पर तरस तो आया ही लाकडाउन का पालन करवाने निकले कर्मचारियों की बुद्धि पर भी तरस आ गया। इस अमले में नगरपालिका बैतूल के राजस्व अमले के अलावा वन विभाग के दो डिप्टी रेंजरों की ड्यूटी लगाई गई थी।बूढ़े पर इस रौब  को झड़ने वाले यही डिप्टी रेंजर श्रीराम पिम्पलकर थे।जिनकी सफाई है कि बार बार समझाइस के बाद भी न मानने पर उन्हें ऐसा करवाना पड़ा। हालाकि बृद्ध का कहना है कि उसे पता ही नही है कि सब्जी की दुकान सुबह लगाना है कि शाम को। इधर एएसपी बैतूल ने इसे गलत बताते हुए कहा है कि वे अमले को इस तरह की कार्रवाई न करने के निर्देश जारी कराएंगे।