दलित युवक से शादी की सजा, युवती का पिता ने कराया शुद्धिकरण, अब ऑनर किलिंग का डर

बैतूल,डेस्क रिपोर्ट। दलित युवक से शादी के बाद एक युवती के शुद्धिकरण का मामला सामनें आया है। बैतूल में दलित युवक से शादी करने पर एक नर्सिंग की छात्रा का नर्मदा में स्नान कराकर शुद्धिकरण किया गया, अब परिजनों की धमकियों के बाद ऑनर किलिंग के डर से जोड़े ने पुलिस से अपनी सुरक्षा की मांग की है। लड़की ने पुलिस से पिता सहित परिवारवालों से बचाने की गुहार लगाई है। युवती यादव जाति की है।

Sahara india : कांग्रेस नेता के आंदोलन के बाद पुलिस के सामने सहारा ने किया जल्द पैसा लौटाने का वादा

24 साल की पीड़िता ने बताया कि 11 मार्च 2020 को बैतूल के टिकारी इलाके में रहने वाले 27 साल के दलित युवक से आर्य समाज में लव मैरिज की थी। शादी के बाद परिवार ने पुलिस की मदद से उसे ससुराल से वापस बुला लिया। इसके बाद उसे राजगढ़ में पढ़ने भेज दिया। अभी वह हॉस्टल में रह रही है। 28 अक्टूबर को वह हॉस्टल से भागकर पति के पास बैतूल पहुंची। उसका आरोप है कि पिता ने 18 अगस्त को उसे नर्मदा नदी पर ले जाकर 4 लोगों के सामने अर्धनग्न कर शुद्धिकरण करवाया।

Bhind News : भिंड पुलिस ने 1 क्विंटल गांजे के साथ एक तस्कर को किया गिरफ्तार

युवती का आरोप है कि शुद्धिकरण के नाम पर नदी में डुबकी लगवाई, उसे जूठी पूड़ी खिलवाई गई। बाल काटे गए और शरीर पर पहने कपड़े वहीं फिंकवा दिए गए। ऐसा दलित युवक के साथ शादी करने के बाद शुद्धिकरण के लिए किया गया। अब उस पर दबाव बनाया जा रहा है कि वह अपने पति को तलाक देकर किसी सजातीय से शादी कर ले। उसने मामले में पुलिस पर भी उसके पिता से मिले होने का आरोप लगाया है, जबकि उसके पति ने उनकी ऑनर किलिंग करवाए जाने की आशंका जताई है। लड़की का आरोप है, कि शादी के बाद से ही उसके मायके पक्ष से जान से मारने की धमकी मिल रही है। शादी के बाद उसके पिता ने 10 जनवरी को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट चोपना थाने में दर्ज करवाई। जिस पर थाने के तीन पुलिसकर्मी उसे जबरदस्ती ससुराल से चोपना थाने ले आए। जहां उससे कोरे कागज पर हस्ताक्षर करवाकर मायके छुड़वा दिया। शादी के बाद उसने एसपी, थाना प्रभारी कोतवाली बैतूल को परिवारवालों के खिलाफ एक लिखित आवेदन दिया था, लेकिन आवेदन पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।