किसान का बेटा मुख्यमंत्री बना बैठा है, इसलिए कॉंग्रेस को गुस्सा आता है : शिवराज

The-son-of-the-farmer-is-chief-minister

आमला। 

कांग्रेस के ‘गुस्सा आता है’ के स्लोगन को भाजपा हथियार बनाकर उन्हीं पर वार कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज हर सभा में इस स्लोगन को दोहरा कर कांग्रेस पर दोहरे वार कर रहे है। चुनावी सभा के दौरान आज आमला पहुंचे मुख्यमंत्री ने फिर इस स्लोगन को जनता के बीच जमकर भुनाया और कांग्रेस पर हमला बोला।  उन्होंने कहा कि जब 15 साल में हम विकास के इतने काम कर सकते हैं तो कांग्रेस क्यों नहीं कर सकती? कांग्रेस को इसका जवाब देना होगा। लेकिन जवाब देने की जगह कांग्रेस को गुस्सा आता है। 15 साल से कॉंग्रेस सरकार में नहीं है। इतने दिनों से सत्ता से दूर हैं और एक किसान का बेटा मुख्यमंत्री बना बैठा है, इसलिए कॉंग्रेस को गुस्सा आता है।

उन्होंने कहा कि हमने मध्यप्रदेश को बीमारू से विकसित बनाया कांग्रेस को गुस्सा आता है। ऐसा कोई बांध नहीं बनाया जाएगा जिसमें हमारे खेत डूबें, लोग बेघर हों। यह सिर्फ कॉंग्रेस द्वारा फैलाई जा रही अफवाह है। हमने मध्यप्रदेश को विकासशील से विकसित बनाया, अब इसे समृद्ध बनाएँगे। धर्म, जाति, समुदाय का कोई भेद नहीं करते हुए हम सभी गरीब भाई बहनों के लिए काम करते हैं तो कांग्रेस को गुस्सा आता है ।

शिवराज यही नही रुके आगे कहा कि हम महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए काम करते हैं। युवाओं को रोजगार दिलाता हूं और बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा कराता हूं, तो कांग्रेस को गुस्सा आता है । बेटियों के पांव धोकर मैं अपने माथे से लगता हूँ। मेरी माँ-बहन-बेटियों की ज़िंदगी संवारना है। मेरी बेटियां सुखी तो मैं सुखी। मध्यप्रदेश को समृद्ध बनाने के लिए अभी बहुत काम मुझे करना है, मैं ये सारे काम कर सकूं इसलिए मुझे और भाजपा को आशीर्वाद दीजिये कांग्रेस ने मध्यप्रदेश को बर्बाद कर दिया था। हमने प्रदेश को विकासशील और फिर विकसित बनाया। अब समृद्ध मध्यप्रदेश के निर्माण के लिए संकल्पित होकर कार्य कर रहे हैं, तो कांग्रेस को गुस्सा आता है