Bhind news : खाद न मिलने पर किसानों ने किया विरोध प्रदर्शन, चौराहे पर लगाया चक्काजाम

फसलों की बुवाई से पहले यूरिया-डीएपी की बोरियां लेने की आस में किसान खेतों को छोड़कर शहर पहुंच रहे हैं। लेकिन उन्हें खाद-यूरिया नहीं मिल रहा है, जिससे किसान आक्रोशित हैं।

भिंड, सचिन शर्मा। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) के भिंड जिले (Bhind district) के मेहगांव में किसानों (farmers) ने खाद न मिलने पर भिंड  चौराह पर एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन कर जाम लगा दिया। दरअसल मेहगांव में खाद की किल्लत को लेकर त्राहि-त्राहि मची हुई है। फसलों की बुवाई से पहले यूरिया-डीएपी की बोरियां लेने की आस में किसान खेतों को छोड़कर शहर पहुंच रहे हैं। यहां किसान सुबह 4 बजे से कतार में खड़े होकर खाद मिलने का इंतजार करते रहे लेकिन खाद नहीं मिल सकी जिससे नाराज किसानों ने विरोध जताते हुए चौराहे पर चक्काजाम कर दिया।

ये भी पढ़ें- जिले को मिली इंटरसेप्टर वाहन की सुविधा, अब पुलिस अपराध करने वालों पर कसेगी नकेल

दरअसल मेहगांव में अच्छी बारिश के बाद जिलेभर के 80 फीसदी खेत सूने पड़े हैं। अब इन खेतों में किसान, सरसों, चना, मटर, गेहूं जैसी फसलों की बुवाई करना चाहते हैं। लेकिन किसानों की सबसे पहली जरूरत यूरिया-डीएपी खाद है। वहीं भिंड जिले के किसान हर रोज सुबह से ही खाद वितरण सेंटरों पर पहुंच रहे हैं। वे यूरिया मिलने की आस में भूखे-प्यासे कतार में खड़े हो जाते हैं। लेकिन हर रोज बड़ी तादाद में किसानों को खाली हाथ लौटना पड़ता है। सेंटरों पर बैठे जिम्मेदारों द्वारा किसानों से खाद खतम होना कह दिया जाता है तो कभी कहते है कि खाद एक दो-दिन में आएगा। इससे उन्हें खाली हांथ ही लौटना पड़ता है। वहीं दिन पर दिन किसानों के साथ इस तरह का सलूक होने से और खाद न मिलने पर आज किसानों ने भिंड चौराह पर जाम लगा दिया और विरोध प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाज़ी की।