भिण्ड- छेड़खानी के विरुद्ध उठाई आवाज तो पुलिस ने शिकायतकर्ता पर ही लगा दी संगीन धाराएं

मेहगांव पुलिस के द्वारा छेड़खानी करने वाले युवक की शिकायत पर पीड़िता के रिश्तेदार दिनेश और रामकुमार पटेल (पत्रकार) के विरुद्ध उससे भी अधिक संगीन धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया।

भिण्ड, गणेश भारद्वाज। भिण्ड (bhind) से एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। वारदात जिले के मेहगांव थाने से जुड़ी है। दिनेश अपनी पत्नी और निकटस्थ रिश्तेदार महिला को ससुराल से कार (car) में वापस ला रहा था तब दोनो महिलाओं के साथ बदमाशों ने छेड़खानी (molestation) कर दी। इसके बाद दिनेश की फरियाद पर छेड़खानी करने वाले दोनों युवक सोनू परमार और उम्मेद भदौरिया के खिलाफ छेड़खानी से जुड़ी धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया।

यह भी पढ़ें… कोरोना पर सीएम शिवराज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की चर्चा, स्थिति से कराया अवगत

यहां तक तो सब ठीक था लेकिन मेहगांव पुलिस के द्वारा छेड़खानी करने वाले युवक की शिकायत पर पीड़िता के रिश्तेदार दिनेश और रामकुमार पटेल (पत्रकार) के विरुद्ध उससे भी अधिक संगीन धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। ये किसी की भी समझ से परे है। पुलिस ने दोनों ही मामलों में आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास भी शुरू कर दिए है।

यह भी पढ़ें… वैक्सीनेशन पर बड़ा फैसला, 12 से 16 वीक में लगेगा कोविशील्ड का दूसरा डोज, प्री बुकिंग पर नहीं होगा असर

इस घटना के बाद ऐसा लग रहा है जैसे महिलाओं के खिलाफ होने वाली ज्यादती की घटनाओं के विरुद्ध आवाज उठाना भी एक अपराध बन गया है। ऐसा करने वालों पर छोटीमोटी नहीं बल्कि संगीन धाराओं के तहत मुक़द्दमा दर्ज होना तय है। भिण्ड में हुई इस घटना में तो पत्नी की रक्षा करने के लिए पति पर ही मामला दर्ज कर लिया गया। ऐसे में कोई तीसरा व्यक्ति कभी किसी महिला की आबरू बचाने के लिए आगे नहीं आएगा। ऐसा होना इस समाज के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है।