तहसीलदार के चेंबर में कर्मचारी ने लगाई फांसी, गुस्साए परिजनों ने अफसरों को बनाया बंधक

chowkidar-commits-suicide-in-tehsildar-chamber-

भिंड/गोहद।

मध्यप्रदेश के भिंड जिले के गोहद में तहसील कार्यालय में पदस्थ एक चपरासी ने तहसीलदार के चेंबर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जैसे ही सूचना परिजनों को मिली वे कार्यालय पहुंचे और हंगामा करना शुरु कर दिया।इतना ही गुस्साए परिजनों ने वहां मौजूद अफसरों को बंधक बना लिया।साथ ही अफसरों पर हत्या का आरोप लगाया। 

जानकारी के अनुसार, गोहद कस्बे की भानू की घटिया निवासी अरुण (47) पुत्र देवीलाल बाथम गोहद तहसील कार्यालय में चपरासी था। शुक्रवार रात उसकी गोहद तहसील में ड्यूटी थी। इसी दौरान उसने तहसीलदार ममता शाक्य के कक्ष में फांसी लगा ली। शनिवार को सुबह की शिफ्ट के चौकीदार अफजल खान तहसील कार्यालय पहुंचे तो बिजली जल रही थी। तहसीलदार चेंबर का गेट खुला हुआ था। चौकीदार खान चेंबर की ओर गए तो पंख से चौकीदार अरुण बाथम का शव फांसी पर लटका हुआ था। 

इधर परिजन को सूचना मिली तो वे भी मौके पर पहुंचे और जमकर हंगामा किया। साथ ही उन्होंने हत्या का आरोप लगाते हुए मौका मुआयना पर पहुंचे तहसीलदार ममता शाक्य, गोहद टीआई रमेश शाक्य सहित पुलिस जवान और तहसील कर्मचारियों को शव के साथ कार्यालय में बंद कर ताला लगा दिया। मौके पर पहुंचे गोहद टीआई रमेश कुमार शाक्य ने परिजन को समझाया तब उन्होंने गेट खोला।  डेढ़ घंटे बाद 10.30 बजे गोहद एसडीएम डीके शर्मा की समझाइश पर ताला खोला। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here