कलेक्टर ने की हर घर और प्रतिष्ठान के बाहर डस्टबिन रखने की अपील, शहर को चाहने वालों ने खुलकर रखे सुझाव

जिला प्रशासन द्वारा मिशन सबसे भिंड के स्वयंसेवकों की जो बैठक ली गई उसमें निर्णय लिया गया है कि आज रविवार से शहर को संभालने के लिए फिर से जागरूकता अभियान प्रारंभ होगा इसके लिए मिशन स्वच्छ भिंड के सभी स्वयंसेवक सुबह 8:00 बजे परेड चौराहा पर एकत्रित होकर सफाई कार्य और जागरूकता अभियान शुरू करेंगे।

भिण्ड,गणेश भारद्वाज| भिंड शहर को एक बार फिर से स्वच्छता के पायदान पर अग्रणी श्रेणी में लाने के लिए कलेक्टर डॉ वीरेंद्र रावत ने मिशन स्वच्छ भिंड के स्वयंसेवी ओं की कलेक्टर सभागार में एक बैठक ली इस बैठक में पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह, सीएमएचओ डॉ अजीत मिश्रा नगर पालिका के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुरेंद्र शर्मा स्वास्थ्य अधिकारी राजवीर सिंह सेनेटरी इंस्पेक्टर रविंद्र पाल सिंह भदौरिया भी मौजूद रहे।

बैठक को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री रावत ने नगर के प्रत्येक आवास और प्रतिष्ठान के मालिकों से आव्हान किया है कि वे अपने अपने घर और प्रतिष्ठान के बाहर डस्टबिन अवश्य रखें और उसमें ही कचरा डालें नगर को साफ स्वच्छ रखने के लिए वह भी अपनी महती भूमिका का निर्वहन करें पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह ने कहा कि भिंड शहर इन दिनों स्वच्छता के मामले में पिछड़ा हुआ है यहां का ड्रेनेज सिस्टम बेहद खराब है इसे सुधारने के लिए हम सब को आगे आना ही होगा। सीएमएचओ डॉ अजीत मिश्रा ने कहा कि नगर में रात की शिफ्ट में भी सफाई हो, इस हेतु हर वार्ड को टारगेट के रूप में लें, गोल मार्केट और बाजार में बहुत गंदगी रहती है। कचरा डंप हेतु शहर में व्यवस्था बने।

आज आठ बजे परेट चौराहा से शुरू होगा मिशन स्वच्छ भिण्ड पार्ट -2
जिला प्रशासन द्वारा मिशन सबसे भिंड के स्वयंसेवकों की जो बैठक ली गई उसमें निर्णय लिया गया है कि आज रविवार से शहर को संभालने के लिए फिर से जागरूकता अभियान प्रारंभ होगा इसके लिए मिशन स्वच्छ भिंड के सभी स्वयंसेवक सुबह 8:00 बजे परेड चौराहा पर एकत्रित होकर सफाई कार्य और जागरूकता अभियान शुरू करेंगे। इसमें भिंड विधायक संजीव सिंह कुशवाह, कलेक्टर डॉ वीरेंद्र सिंह रावत व पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह सहित नगर पालिका के अधिकारी व कर्मचारी भी मौजूद रहेंगे।

मिशन स्वच्छ भिंड की ओर से नगर को संवारने इन स्वयंसेवियों ने दिए सुझाव….
शासन कोरोना काल को दृष्टिगत रखते हुए जनता को निशुल्क मास्क वितरण करे और जिन कंपनियों ने शहर को बदहाल कर रखा है उनको नियमों का पालन करने के लिए बाध्य करे। स्वच्छता हेतु कर्मचारियों पर निगरानी टीम गठित करें।
एड शैलेन्द्र सिंह सांकरी

-नगर को गंदा रखने वाले लोगों पर दंड का प्रावधान हो, चेतावनी के साथ
जागरूकता अभियान चलाया जाए और शासन को सख्ती दिखाना चाहिए।
-आदित्य प्रताप सिंह भदौरिया

शहर में हो रहे निर्माण कार्य गंदगी कर रहे है, हर काम का समय निर्धारण हो और नियमों को सख्ती से पालन कराया जाए।
-परानिधेश भारद्वाज

नगर की सड़कों व गली मोहल्लों में बीच सड़क पर निर्माण सामग्री फैली हुई है, हर रोड लोगों ने घेर रखी है। इस पर कार्यवाही होनी चाहिए।
-अवनीश श्रीवास्तव

शहर को संवारने जन जागरूकता की आवश्यकता है, सफाई के प्रति हम सब मिलकर लोगों को हम जागरूक करें, लोग कहीं भी कचरा डाल देते है, अटेर रोड डिवाइडर की देखभाल हमारी संस्था कर रही है,जो निर्माण पहले किये है उनके प्रति।लोगों की उदासीनता है। जनभगीदारी के माध्यम से शहर सवारने और भी निर्माण कार्य हो, ट्रैफिक व्यवस्था सुधरे, ठेले सही व्यवस्तिथ जगहों पर लगे।
-राजेश शर्मा

सार्वजनिक स्थलों की सफाई हो, वोट क्लब को नपा व शासन का सहयोग मिले, होमगार्ड की सुरक्षा गौरी को मिले। गौरी के लिए खेल युवक कल्याण विभाग के द्वारा बहुत पैसा मिल सकता है इस हेतु शासन स्तर पर प्रयास तेज हों
-राधेगोपाल यादव

शासन सफाई व नपा कार्यों की शोसल ऑडिट कराएं, शहर के प्रति नपा अधिकारियों का रवैया उदासीन है हमारा शहर इन दिनों बदहाल है और रहवादी बेहद परेशान है। सड़कें अतिक्रमण मुक्त हों
नितिन दीक्षित

शहर में पहले की तरह वार्ड टू वार्ड सफाई अभियान चले, सार्वजनिक स्थलों पर मूर्तियों पर पोस्टर चिपकाने वालों पर कार्यवाही हो, हम प्रशासन के साथ है। कालोनियों में प्लॉट्स में कचरे की सफाई हो। जनप्रतिनिधियों के पास चलें उन्हें घेरे।
-अमर सिंह भदौरिया

सफाई कर्मी जल्दी नहीं 7 बजे से आये,लोग धूल से परेशान है। निर्माण कार्य नियमानुसार हों, पुस्तक बाजार से अटेर रोड की सफाई हो।
-वीरेंद्र ओझा

कचरे की गाड़ियों की टाइमिंग तय हो, कचरा गाड़िया अलाउंस करें।
-आशीष पाठक

गाड़ियों पर कर्मचारी के नम्बर डिस्प्ले हों, जिम्मेदारी तय हो, गौरी पर रेलिंग ठीक हो, हमने भिण्ड का अच्छा स्वरूप देखा है। पर हम सहेज नहिं पाए सफाई, बस स्टैंड से सफाई की शुरुआत हो, सार्वजनिक स्थल शहर के फेस साफ स्वच्छ करवाये जाएं।
-गगन शर्मा

लूट मची है सीवर के नाम पर और जलावर्धन योजना में।इलैया टी का समय अच्छा था, भिण्ड बदला था, आज गर्त में है हमारा शहर। भिण्ड की उन्नति के लिए हम सब सोचते है पर दुर्भाग्य आज बदहाली है।
-दीपक भदौरिया

शहर की टॉयलेट सही हों , बाजार में बड़ी डस्टबिन रखें , चलित चेकिंग दस्ते बने, जिम्मेदारों पर कार्यवाही हो, जिम्मेदारों की जिम्मेदारी तय हो।
-अनिल चौधरी

हमारे संगठन भाविप ने स्थाई प्याऊ सिटी कोतवाली पर बनाई पर लोग वहां गंदगी फैलाते है उसकी सफाई हो।हमने प्याऊ बेहद सुंदर बनाई पर सफाई नहीं होने से परेशानी है।
-श्रवण पाठक

नगर में कई जगह शासकीय जमीनों पर अतिक्रमण हैं वो अतिक्रमण से मुक्त हो और गणेश मंदिर के बगल से पत्रकार पार्क वाली मुक्त कराई जाए। शहर एआज हर तरफ जलभराव और गंदगी से भरा हुआ है। भिण्ड वासी परेशान होकर यहां से पलायन की सोचने लगे है।
-गणेश भारद्वाज

सुभाष तिराहे से इंदिरा गांधी चौराहे तक डिबाइडर गलत बन रहा है। सड़क चौड़ी नहीं और डिवाइडर चौडा है बाजार में सड़कों पर बाइक न लगें। दोनो तरफ बाइक लगने से आवागमन परेशानी भरा होता है।
-राहुल सिंह कुशवाह

हमारी स्वच्छता रैंकिंग 474 से 114 तक आ गई थी । स्वच्छ मिशन के माध्यम से। नपा का अमला बढ़ा है पहले से लेकिन आज हम स्वच्छता में पिछड़ गए है हमें एक बार फिर अपना शहर अच्छा करना है, भिण्ड के है सीएमओ सुरेंद्र शर्मा जी, कुछ करें अपने शहर के लिए। सफाई गाड़ी तीन बार जानी चाहिए लेकिन एक बार ही सफाई हेतु आती है। मॉनीटरिंग करें प्रशासन सफाई की।नरेंद्र गुप्ता व रविन्द्र भदौरिया पहले वाले रूप में आये। सीएमओ सहाब तीन महीने डीजल मत खाओ तो क्या बिगड़ जाएगा आपका।
-डॉ शैलेन्द्र परिहार

नगर के हालात इतने खराब हैं कि सुभाष तिराहे से इंदिरा गांधी तक 2 किलोमीटर जाने में एक घण्टा लगता है। इसे सुधारा जाए।
-राहुल यादव भूरे

तत्कालीन कलेक्टर इलैया राजा जी के समय एक रचना भिण्ड के सुधार की बनाई थी, एक ग्रुप बनाया था, हर सातवें दिन वार्ड में हम जाते थे। शासन के सहयोग हम काम करते थे। शासन तब हमारा सहयोगी था।प्रशासन को सख्त होना चाहिए सफाई के लिए। बाजार में अतिक्रमण है व्यापक। इसे हटना चाहिए।
-अरुण गुप्ता

बाजार में रात की सफाई जरूरी है। हमारी शिकायत को दुश्मनी न माने नगरपालिका के अधिकारी। बाजार में लेडीज टॉयलेट बने।
-बबलू सिंधी

बाजार का रस कम करने के लिए हॉकर्स जॉन बन तो गया है पर अब जल्दी शुरू हो ।
-सौरव शर्मा

नगर पालिका को नगर की सड़कों के दोनों ओर ब्लॉक नालियों पर ध्यान देना चाहिए , इससे शहर के कई हिस्सों में जलभराव से राहत मिलेगी।
अवधेश भदौरिया