जनता की जान से खिलवाड़ नहीं होने देंगे: डॉ रमेश दुबे

501
-Complaint-of-bhind-Health-Department-to-the-health-minister-by-dubey-

भिण्ड । भिंड जिले में आए दिन स्वास्थ विभाग की लापरवाही के कारण जिला अस्पताल व तहसीलों के अस्पतालों में मौतों का सिलसिला जारी है जिससे आम नागरिक भयभीत है| इसकी बिंदुवार शिकायत पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ रमेश दुबे ने मध्य प्रदेश शासन के परिवार स्वास्थ्य एवं कल्याण मंत्री तुलसी सिलावट को लिखित पत्र के माध्यम से की है। पूर्व अध्यक्ष डॉ रमेश दुबे ने कहा कि विगत एक माह में स्वास्थ्य सेवाओं की लापरवाही के कारण लगभग 10 मौतें हो चुकी यह चिंता का विषय है।

डॉ रमेश दुबे ने कहा कि 4 जनवरी को प्रसव के दौरान राखी पत्नी विवेक राजावत की मौत हुई, 8 जनवरी को लकवा पीड़ित मुन्ना लाल की मौत हुई, 10 जनवरी को रजनी तोमर पत्नी इंद्रवीर वह मनीषा पत्नी धर्मवीर की गोहद में मौत हुई, 14 जनवरी को प्रीति पत्नी शिव कुमार कि मैं गांव में मौत हुई, 18 जनवरी को टीकाकरण से नीलम मिथलेश और राधा की तबीयत बिगड़ी, 22 जनवरी को विक्रम सिंह पुत्र राम सिंह की जिला चिकित्सालय में मौत, 24 जनवरी को घायल नरेश कुमार को इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हुई,  26 जनवरी को 108 के ना पहुंच पाने से उसने रास्ते में ही जन्म दिया ऐसी तमाम घटनाओं से भिंड में स्वास्थ्य विभाग के प्रति विश्वास का वातावरण ना बने इस पर मंत्री से कड़ा कदम उठाने का डॉक्टर दुबे ने आग्रह किया है| 

लापरवाह अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई हो 

रमेश दुबे ने कहा कि इन घटनाओं से स्पष्ट है कि भिंड जिले का चिकित्सा प्रबंधन व स्वास्थ्य अधिकारी आम इंसान की जान के प्रति कितने लापरव��ह है दुबे ने स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट से कहा कि इस प्रकार की घटनाओं पर तुरंत रोक लगे व इसकी पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए इन मामलों की उच्चस्तरीय जांच का आदेश दिया जाए | वहीं लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए | 

मंत्री ने दिए आदेश 

रमेश दुबे की शिकायत पर स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण को आदेशित किया कि इन गंभीर मामलों की तुरंत जांच कराएं एवं दोषी पाए जाने पर संबंधित हों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करें | दुबे ने कहा कि मध्य प्रदेश की सरकार की मंशा है कि हर व्यक्ति को उचित इलाज मिले व उनका विश्वास कायम बनानाउन्होंने कहा कि ऐसी लापरवाही करने बाले गेर जिम्मेदारों को वख्शा नही जाएगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here