फूल सिंह बरैया के बयान पर घमासान, भाजपा नेता बोले- कांग्रेस नागफनी, जनता देगी जवाब

कांग्रेस प्रत्याशी के द्वारा जब ये बयान दिया गया तब उसी मंच पर कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे दिग्विजय सिंह के खासमखास लाखन सिंह भी बैठे हुए थे, उन्होंने भी इस अमर्यादित बयान पर अपनी मूक सहमति एवं स्वीकारोक्ति दी जिससे कमलनाथ दिग्विजय प्राइवेट लिमिटेड की असलियत जनता के सामने आ गयी। 

congress-leader-comment-on-modi-govt-budget-

भिंड, गणेश भारद्वाज। कांग्रेस पार्टी के भाण्डेर प्रत्याशी फूल सिंह बरैया (Phool Singh Baraiya) के द्वारा दिये गए आपत्तिनजक बयान को लेकर भाजपा नेता डॉ रमेश दुबे (BJP leader Dr. Ramesh Dubey) ने कड़ी आपत्ति जताते हुए नाराजगी जाहिर की है। डॉ रमेश दुबे (Dr. Ramesh Dubey) ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि  कांग्रेस प्रत्याशी के द्वारा जब ये बयान दिया गया तब उसी मंच पर कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) में मंत्री रहे दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के खासमखास लाखन सिंह (Lakhan Singh) भी बैठे हुए थे, उन्होंने भी इस अमर्यादित बयान पर अपनी मूक सहमति एवं स्वीकारोक्ति दी जिससे कमलनाथ दिग्विजय प्राइवेट लिमिटेड की असलियत जनता के सामने आ गयी। जनता इसका जवाब अपना मत देकर देकर देगी

डॉ रमेश दुबे ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी एक प्रकार से नागफनी का पेड़ बन चुकी है जिसमे फूल सिंह बरैया जैसे लोग इस पेड़ के कंटीले और जहरीले पत्ते हैं। डॉ दुबे ने कहा कि कांग्रेस के द्वारा घोषित भाण्डेर प्रत्याशी फूल सिंह बरैया ने जो अनर्गल और बेहद आपत्तिजनक बयान दिया है उसे नैतिकता, सामाजिकता और राजनैतिक मानदंड किसी भी प्रकार से उचित नहीं ठहराया जा सकता, बरैया का बयान समाजिक ताने बाने को तोड़ने वाला, सामाजिक सौहार्द्र बिगाड़ने वाला और भारतीय राजनीति को कलंकित करने वाला है। डॉ दुबे ने कहा कि बरैया ने अपने बयान में “एक पर छह छह” और समाजविशेष की महिलाओं को लेकर जो टिप्पणी की है वो बर्दाश्त के बाहर है जिसकी स्वीकारोक्ति स्वयं को अपराधी बनाने जैसी है,इस बयान को जो भी स्वीकारेगा वो निश्चित तौर पर सर्वसमाज का दोषी होगा।

डॉ दुबे ने कहा कि कांग्रेस ने ऐसे ही विध्वंसकारी और विघटनकारी लोगों को चुनाव में उतारा है, जो पूर्व से विवादित तो हैं ही अब चुनाव के बहाने जहर घोलने का भी काम कर रहे हैं। बरैया के इस बयान से कांग्रेस का चाल चरित्र और चेहरा जनता के सामने उजागर हो गया है, जनता इसका जवाब अपना मत देकर देकर देगी। डॉ दुबे ने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी के द्वारा जब ये बयान दिया गया तब उसी मंच पर कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे दिग्विजय सिंह के खासमखास लाखन सिंह भी बैठे हुए थे, उन्होंने भी इस अमर्यादित बयान पर अपनी मूक सहमति एवं स्वीकारोक्ति दी जिससे कमलनाथ दिग्विजय प्राइवेट लिमिटेड की असलियत जनता के सामने आ गयी। इस कांग्रेस प्रत्याशी के असामाजिक बयान को लेकर मुख्य चुनाव आयुक्त मध्यप्रदेश एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र के माध्यम से शिकायत करेंगे।

बरैया ने एक के बाद एक दिए दो विवादित बयान

दरअसल, भांडेर (bhander) से कांग्रेस के प्रत्याशी (congress candidate) फूल सिंह बरैया ने (Phool singh baraiya) ने एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि हम अनुसूचित जाति के लोग और मुसलमान एक ही पिता की संतान हैं चाहे तो डीएनए टेस्ट करा लिया जाए ।इसके पहले भी फूल सिंह बरैया ने अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट पर वोटरों को संबोधित करते हुए कहा था कि सवर्ण वर्ग के लोगों का कुत्ता अगर अनुसूचित जाति के लोग छू लेता हैं तो वे उस कुत्ते को अनुसूचित जाति के घर बांध आते हैं। इसलिए अनुसूचित जाति के लोगों को भी सवर्णों के घर जाकर उनकी महिलाओं को लड्डू खिलाने चाहिए, जिससे वह भी अस्पृश्य हो जाएं और फिर सवर्ण वर्ग के लोग उन्हें अनुसूचित जाति के घर के लोगों के घर छोड़ आएं। इस तरह अनुसूचित जाति के लोगों के दो-दो पत्नियां हो जाएंगी।

यह भी पढे…कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया का एक और विवादित बयान, बोले- हम और मुसलमान एक ही पिता की संतान

कांग्रेस प्रत्याशी का बेहद आपत्तिजनक बयान, कांग्रेस को डाल सकता है मुसीबत में