congress-district-president-meet-minister-arif-aqeel

भिण्ड। मध्य प्रदेश के भिंड जिले में समस्याओं का अंबार लगा है। नई सरकार के सामने कई चुनौतियां है। सोमवार को भिंड जिला प्रभारी और मंत्री आरिफ अकील पहुंचे। जहां पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष रमेश दुबे ने उनसे मुलाकात की। उन्होंने मंत्री को भिंड में व्याप्त समस्याओं से अवगत करवाया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पिछली बीजेपी की सरकार के कार्यकाल में भिंड जिले में विकास सिर्फ कागजों पर किया गया है।  विभागीय अधिकारी व ठेकेदारों की हठधर्मिता के कारण यह स्थिति बनी हुई है।

रमेश दुबे ने बताया कि मध्य प्रदेश में बिजली सरप्लस है उसके बावजूद भी जिले भर में अघोषित कटौती जारी है। इसे तुरंत सुधारा जाना चाहिए, दुबे ने बताया कि बिजली के बढ़े हुए बिल आ रहे हैं कनेक्शन ना होने के बाद भी बिल निरंतर भेजे जा रहे हैं। वह बिल जबरन वसूली की जा रही है। नोटिस दिए जा रहे हैं, इससे आम जनता हैरान है । यही नहीं उन्होंने प्रभारी मंत्री के सामने जिले में सीवर लाइन के प्रोजेक्ट में कई खामियों के बारे में बाताय। उन्होंने कहा कि अनियमितताओं के कारण शहर में सड़के खुदी पड़ी हैं और लोग खराब सड़कों पर चलने को मजबूर हैं जिससे उनके स्वास्थ्य और वाहनोंं पर असर पड़ रहा है। 

उन्होंने बताया कि किले से लेकर कलेक्ट्रेट रोड पिछले 18 माह से ज्यादा समय से अधूरी पड़ी हुई है यह कलेक्टेड आने का मुख्य मार्ग है इसमें पीडब्ल्यूडी नगर पालिका की लापरवाही के कारण यह हालात बदतर हालत में बने हुए इसे जल्द ठीक कराया जाए दुबे ने कहा कि पिछली सरकार के समय से भिंड की जनता इन समस्याओं से जूझ रही है इस से निजात दिलाने का काम कांग्रेस सरकार का है अतः आपसे आग्रह है कि विभागों को निर्देशित कर जनता को राहत प्रदान करे । रमेश दुबे के साथ प्रतिनिधि मंडल में रामदास सोनी उदयवीर सिंह शिवप्रताप सिंह सन्तोष शर्मा अजित सिंह सन्दीप भदौरिया कोक सिंह राजीव शर्मा राधामोहन चौबे राजीव दीक्षित विकाश शैलेन्द्र भदौरिया भूरे गुबरेले सहित कांग्रेस नेता गन सर्किट हाउस पर उपस्थित थे ।