भिण्ड : विवाह के लिए कार्ड ही है अनुमति, गाइडलाइन का पालन अनिवार्य

भिण्ड जिले में क्राइसिस मेनेजमेंट समिति की बैठक में शादी समारोह को लेकर निर्णय लिए गए।

भिण्ड, गणेश भारद्वाज। भिण्ड जिले में कोरोना (Covid-19) के गहराते संकट के बीच कर्फ्यू लगाया गया है। जहां गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए क्राइसिस मेनेजमेंट समिति (Crisis Management Committee) की बैठक हुई। बैठक में सर्वसम्मति से कई निर्णय लिए गए। बैठक में निर्णय लिया गया की शादी का कार्ड ही अनुमति है। अन्य किसी प्रकार की अनुमति की आवश्यकता नहीं है। मैरिज गार्डन में 100 और घर पर 50 व्यक्तियों में ही विवाह संपन्न करने की अनुमति है। गाइडलाइन के उल्लंघन पर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें:-वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री का कोरोना से निधन, पार्टी में शोक लहर

जिला प्रशासन द्वारा शादी वाले दिनों में निरीक्षण किया जाएगा। यदि इस बीच कोई गाइडलाइन का उल्लंघन करता पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी। जिला प्रशासन ने अपील की है कि आमजन कम से कम व्यक्तियों में ही शादी/ विवाह का कार्य सम्पन्न करें। कोरोना संक्रमण की रोकथाम हम सब की ज़िम्मेदारी है, इसमें हम सब को मिलकर साथ देना होगा। इस क्राइसेस मैनेजमेंट की वर्चुअल बैठक में जिलाधीश डॉ. सतीश कुमार, एसपी मनोजकुमार सिंह के अलावा सांसद संध्या राय, सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, विधायक संजीव सिंह संजू, जिला पंचायत अध्यक्ष रामनारायण हिंडोलिया, जिला स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ अजीत मिश्रा, डॉ हिमांशु बंसल सहित कई लोग सम्मलित हुए।