इलाज के दौरान किसान की मौत पर बवाल, परिजनों ने किया चक्काजाम, नर्सें बैठी धरने पर

farmer-death-during-treatment-family-member-road-block-in-bhind

भिंड – गणेश भारद्वाज

जिला अस्पताल भिंड में उस समय हंगामा हो गया जब अल सुबह  इलाज के लिए आए गंभीर सिंह भदौरिया की उपचार के दौरान मौत हो गई। गंभीर सिंह की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में हंगामा शुरू कर दिया और हंगामा इतना ज्यादा किया कि ड्यूटी पर तैनात नर्स को कमरे का गेट लगाकर अपने आप को बचाना पड़ा। इसके बाद परिजनों ने अस्पताल के बाहर लाश को रखकर चक्काजाम कर दिया। करीब 2 घंटे चले चक्का जाम के बाद मामला शांत हो सका और परिजन बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने पर राजी हुए।

दूसरी ओर जिला अस्पताल के स्टाफ ने काम बंद कर दिया और अपने कर्मचारियों के साथ हुई अभद्रता को लेकर धरने पर सभी नर्सेज बैठ गई, नर्सों की मांग है कि आरोपियों पर कठोर कार्रवाई की जाए और हमें सुरक्षा मुहैया कराई जाए, आए दिन कभी चिकित्सकों के साथ तो कभी स्टाफ के साथ मरीजों के परिजनों के साथ अभद्रता की जाती है। दोनों ही मामलों में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। अस्पताल के सामने करीब 2 से 3 घंटे तक जाम होने के कारण अस्पताल छावनी में तब्दील हो गया और पुलिस परिजनों को समझाती हुई देखी गई, इस बीच कुछ परिजन काफी हंगामा करते हुए भी दिखाई दिए। अंत में अटेर विधायक अरविंद भदौरिया के भाई देवेंद्र भदौरिया अस्पताल पहुंचे और उन्होंने मृतक गंभीर सिंह के परिजनों को समझाइश दी जिसके बाद में परिजन पीएम कराने पर राजी हुए। क्योंकि मृतक अटेर विधानसभा क्षेत्र के बिछोली गांव का निवासी था।