बाहर कोरोना का डर, घर में सांपों का आतंक, आखिर कहां जाएं साहब

भिंड| गणेश भारद्वाज| घर के बाहर कोरोना का डर घर में किंग कोबरा सांपों का आतंक, बोलो आखिर कहाँ जाए हम साहब….कुछ ऐसी हालत है भिण्ड के रौन जनपद के चचाई गांव में रहने वाले एक परिवार की। जीवन कुशवाह के घर पिछले 8 दिन से जानलेवा भयानक विषधर किंग कोबरा सांप के बच्चे निकल रहे है। अब तक जीवन अपने घर मे से एक दो नहीं बल्कि 123 सांप पकड़ चुके है लेकिन अब तक शासन प्रशासन की ओर कोई सहायता नही मिल सकी है। सांपों के आतंक से जीवन अब परिवार सहित घर के बाहर गुजारा करने को मजबूर हैं।

दरअसल बिरखडी पंचायत के ग्राम चचाई में रहने वाले जीवन सिंह कुशवाह का परिवार पिछले एक सप्ताह से कोरोना से ज्यादा सांपो से अपने घर मे जाने से दहशत में है कारण है कि जीवन के घर मे पिछले 8 दिन में सैकड़ों की संख्या में काले सांप निकल रहे हैं अब छोटे छोटे करीब 123 सांप घर के सदस्यों ने पकड़े हैं कभी 21 तो किसी दिन 52 सांप तक निकले लेकिन अब तक शासकीय अमला मदद को नही पहुच पाया है परिवार दिन रात दहशत में रहता है गांव वालों ने सांप की पहचान किंग कोबरा के रूप में की है जो कि एक जानलेवा खतरनाक सांप है इस बात का पता चलते ही परिवार के सभी सदस्य कभी खेतों में तो कभी घर के बाहर समय काट रहे हैं घर मे छोटे छोटे बच्चे हैं जिसकी वजह से कोई भी घर मे नही जाना चाहता है। जीवन का कहना है कि वे लोग पिछले कई दिनों से सोए नही है कुर्सी पर बैठे बैठे निगरानी करनी पड़ती है। ये सांप अमूमन 7 से 8 बजे के बाद ही निकलते हैं ऐसे में रात भर पकड़ने का काम चलता है और फिर इन सांपो को बाहर एकांत में छोड़ दिया जाता है।

सूचना के बाद भी नहीं पहुंचा वन विभाग
8 दिन बाद भी वन विभाग की ओर से कोई भी इस परिवार की मदद को नही पहुंचा है, जिसकी वजह लगातार सांप निकलने की वजह का भी पता नही चल पा रहा है। सरकार कहती है कि कोरोना है घर से बाहर न निकलो, लेकिन जीवन और उनका परिवार कोरोना के डर से घर से बाहर न भले ही न निकले लेकिन जब घर के अंदर किंग कोबरा जैसे जहरीले सांप एक के बाद एक बड़ी संख्या में निकल रहे हों तो घर मे घुसने की भी हिम्मत कैसे हो।