लोकायुक्त एक्शन : 10,000 रुपये की रिश्वत लेते क्लर्क गिरफ्तार

तहसील कार्यालय गोहद में पदस्थ क्लर्क मनीष शर्मा जमीन बंटवारे के बदले 10,000 रुपये की रिश्वत मांग रहा था ।

भिंड, डेस्क रिपोर्ट। भ्रष्टाचार को लेकर मुख्यमंत्री के सख्त नर्देश है कि कोई भी रिश्वत (Bribe) लेता मिले उसके खिलाफ कड़ा एक्शन होना चाहिए, आदेश के बाद लोकायुक्त पुलिस सहित अन्य जाँच एजेंसियां एक्शन भी ले रही हैं बावजूद इसके रिश्वतखोर कर्मचारी रिश्वत लेने से बाज नहीं आ रहे।

जानकारी के अनुसार भिंड जिले के ग्राम टूंडला में रहने वाले नेतराम कुशवाह नामक व्यक्ति ने ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस (Gwalior Lokayukta Action) कार्यालय में शिकायत की कि तहसील कार्यालय गोहद में पदस्थ सहायक ग्रेड तीन प्रजा वाचक राजस्व वृद्धि हिंडोली मनीष शर्मा जमीन बंटवारे के बदले 10,000 रुपये की रिश्वत मांग रहा है।

ये भी पढ़ें – लोकायुक्त ने 10,000 रुपये की रिश्वत लेते डॉक्टर को गिरफ्तार किया

शिकायत के बाद लोकायुक्त ने प्लानिंग की और शिकायतकर्ता को 10,000 रूपए लेकर तहसील कार्यालय गोहद भेजा।  शिकायतकर्ता नेतराम कुशवाह ने जैसे ही तहसील के बाहर क्लर्क मनीष शर्मा को रिश्वत की राशि 10,000 रुपये दिए पहले से तैयार लोकायुक्त ग्वालियर की टीम ने उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ भ्रष्टाचार से जुडी धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

ये भी पढ़ें – कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, सैलरी से अलग मिलेंगे 10000 से 30000 तक रुपए, जानिए कैसे?