Personal Loan: ये 5 बैंक देते हैं सस्ता पर्सनल लोन, कम होती है ब्याज दर, यहाँ देखें पूरी लिस्ट

कई बैंक ऐसे हैं, जो सस्ते ब्याज दर पर पर लोन देते हैं। यदि आप भी पर्सनल लोन लेने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो यह जरूर जान लें की कौन सा बैंक आपको सस्ता पर्सनल लोन देगा।

Personal Loan: जरूरत के वक्त पर्सनल लोन बेस्ट ऑप्शन बन सकता है। कई बार कुछ ऐसे हालात बन जाते हैं जब पैसों की किल्लत होने लगती है, तब लोगों को बैंक का दरवाजा पर्सनल लोन के लिए खटखटाना होता है। इस प्रकार के लोन Un-Secured होते हैं, मतलब की आपको लोन लेते वक्त किसी प्रकार के सिक्योरिटी राशी जमा करने की जरूरत नहीं पड़ती। बिना कुछ गिरवी रखने पर्सनल लोन को क्लैम किया जा सकता है। लोन को 2-5 सालों में लोन की राशि को चुकाना पड़ता है। यदि आप कोई इमरजेन्सी, पढ़ाई या अन्य कार्यों के लिए पैसों की जरुरत है, तो आसानी से पर्सनल लोन ले सकते हैं। कुछ ऐसे भी बैंक हैं, जो कम ब्याज दर में पर्सनल लोन देते हैं।

पंजाब नेशनल बैंक

पंजाब नेशनल बैंक भी सस्ते दरों पर लोन डेटा है। यह प्राइवेट सेक्टर के बड़े बैंकों में से एक है। यह बैंक 9.8 फीसदी के ब्याज दर के साथ पाँच सालों के लिए लोन देता है। ग्राहक पाँच लाख रुपये तक का पर्सनल लोन 10,574 रुपये की ईएमआई के साथ ले सकते हैं।

बैंक ऑफ इंडिया

बैंक ऑफ इंडिया भी पर्सनल लोन की सुविधा देता है। ग्राहक 5 सालों के लिए 5 लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं। यह बैंक 9.75 फीसदी ब्याज दर के साथ लोन देता है। हर महीने 10,462 रुपये की ईएमआई का भुगतान करना होता है।

यस बैंक

यदि आप पर्सनल लोन लेने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यस बैंक भी अच्छा ऑप्शन बन सकता है। यह बैंक 10 फीसदी के ब्याज दर पर लोन देती है। ग्राहक 5 सालों के लिए 5 लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं, जिसके लिए हर महीने 10,624 रुपये ईएमआई लगती है।

बैंक ऑफ बड़ौदा

बैंक ऑफ बड़ौदा भी ग्राहकों को 5 साल की अवधि के लिए 5 लाख रुपये तक का पर्सनल लोन देता है। बैंक 10.2 फीसदी की ब्याज दर लगाता है। वहीं हर महीने 10,673 रुपये की ईएमआई चुकानी होती है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र

बैंक ऑफ महाराष्ट्र देश के पब्लिक सेक्टर बैंकों में से एक है। यह बैंक 8.9 फीसदी की ब्याज दर पर 5 सालों के लिए लोन देता है। ग्राहक 5 लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं। हर महीने 10,355 रुपये का ईएमआई भुगतान करना होता है।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल शिक्षित करना है। एमपी ब्रेकिंग न्यूज इन बातों का दावा नहीं करता। कोई भी कदम उठाने से पहले विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।