आर्यन हत्याकांड का पुलिस ने किया नया खुलासा, 6 आरोपी गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

स्कूल संचालक सहित आधा दर्जन लोगों को लिया हिरासत में, फिरौती के लिए अपहरण कर की गई थी हत्या।

भिंड,सचिन शर्मा। दो दिन पहले मंगलवार के दिन भिंड (Bhind) के चंद्नपुरा इलाके के निर्माणाधीन मकान में 11 वर्षीय मासूम आर्यन शर्मा की डेड बॉडी मिलने के बाद परिजनों द्वारा जताई गई अपहरण और हत्या की आशंका के बाद भिंड पुलिस ने मामले का प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खुलासा कर दिया है, फिरौती के लिए अपहरण कर हत्या करने के मामले में स्कूल संचालक सहित छ: लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़े…अंकिता लोखंडे ने शेयर की नई रोमांटिक तस्वीर, लगी बेहद खूबसूरत, देखें

दरअसल मंगलवार के दिन उस वक्त चंदनपुरा इलाके में सनसनी फैल गई जब एक निर्माणाधीन मकान बोरे में बंद एक दिन पहले गायब हो गए 11 वर्षीय मासूम आर्यन की डेड बॉडी मिली, घटना के बाद भिंड पुलिस ने टीम गठित कर जांच शुरू करा दी थी, पुलिस ने जब परिजनों से बातचीत की तो उन्होंने बच्चे की फिरौती के लिए अपहरण की आशंका जाहिर की थी, पुलिस ने जब इलाके के सीसीटीवी खंगले तो बच्चा आते जाते नहीं दिखा, पुलिस ने आरडी स्कूल संचालक पर संदेह हुआ तो उसको थाने बुलाकर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया और बताया कि मासूम की हत्या में उसके साथ पांच और लोगों ने सहयोग किया था।

यह भी पढ़े…Dabra : एनएच 44 हाईवे पर बड़ा हादसा टला, चलती बस से बोनट व दोनों टायर निकले

आरोपी आरडी स्कूल संचालक पवन शर्मा ने बताया कि कोरोना काल में एक और स्कूल स्कूल बंद था दूसरी ओर उसने क्रिकेट मैच पर सट्टा खेलना शुरू कर दिया था जिसमें उसे काफी लंबा घाटा हुआ था और काफी बड़ा कर्जा हो गया था ब्याज पर पैसे उठा लिए थे उनकी ओर से लगातार कर्ज चुकाने के लिए दबाव बनाया जा रहा था, जिसके चलते उसने शासकीय कर्मचारी के बच्चे थे अपहरण की योजना बनाई जिसमें बड़ी फिरौती लेने की योजना थी, जिसको पूरा करने के लिए उसने पास में ही रहने वाले एसएएफ जवान धीरेंद्र शर्मा के बेटे आर्यन शर्मा के अपहरण की योजना बनाई, जैसे ही आर्यन साइकिल चलाने के लिए बाहर आया तो स्कूल संचालक पवन शर्मा ने चॉकलेट के बहाने स्कूल में ले गया और उसने वहां पर बच्चे का फिरौती के लिए वीडियो बनाया लेकिन तब तक बच्चे के गायब होने की रिपोर्ट होने के साथ-साथ आसपास इलाके के लोग भी सतर्क हो गये।

यह भी पढ़े…T20 सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद पाकिस्तानी PM के ट्वीट ने मचाया बवाल, जमकर भड़के सोशल मीडिया यूजर्स

ऐसे में पवन शर्मा ने पहचाने जाने के भये से मासूम आर्यन की गला घोटकर हत्या कर दी ओर अपने साथियों शैलेश उर्फ सेलू बोहरे, मधुर कटारे, विश्राम शर्मा, धीरज कांकर के साथ मिलकर डेड बॉडी को निर्माणाधीन मकान में ठिकाने लगा दिया। लेकिन हत्या के बाद पुलिस द्वारा की गई सही दिशा में इन्वेस्टिगेशन से दो दिन के अंदर ही मासूम आर्यन शर्मा की हत्या का खुलासा हो गया और स्कूल संचालक पवन शर्मा सहित सभी आरोपी पुलिस गिरफ्त में पहुंच गए।