प्रदेश में हुई हत्याओं के पीछे भाजपा के नेताओं का ही हाथ : रमेश दुबे ।

The-BJP's-leaders-are-behind-the-murders-in-the-state--Ramesh-Dubey

भिण्ड। मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की हत्या सहित प्रदेश में हो रही भाजपा से जुड़े लोगों की हत्या एवं हत्या के प्रयास एक दुखद घटना है| अपराधियों को बख्शा नहीं जाना चाहिए, मंदसौर में हुई हत्या के पीछे भाजपा नेता ही निकला, हो सकता है प्रदेश में भाजपा कार्यकर्ताओं का सब्र का बांध टूट गया हो और वह हमलावर बन गए हो इस कारण भाजपा के ही नेताओं पर यह हमले होने लगे यह कहना है जिला कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष डॉ रमेश दुबे का| डॉ रमेश दुबे ने कहा कि मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष की हत्या करने वाला भाजपा का ही कार्यकर्ता व हिस्ट्रीशीटर मनीष बैरागी ही निकला | भाजपा कार्यकर्ता ने अपराध कबूलते हुए हत्या का कारण भी बताया है |

दुबे ने जारी बयान में कहा कि रुपए पैसे के लेनदेन वह काम दिलवाने के नाम पर नगर पालिका अध्यक्ष को अपराधी ने रुपए दिए थे लेकिन ना उसे रुपए वापस मिले ना ही उसे काम मिला | रमेश दुबे ने कहा कि उक्त आरोप अपराधी ने स्वयं को बोलते हुए कहा कि जब उसकी मां की अर्थी रखी हुई थी उस समय भी नगर पालिका अध्यक्ष ने उसके पैसे नहीं लौटाए इस कारण उसने यह हत्या की | रमेश दुबे ने बताया कि इस घटना से प्रतीत होता है कि अन्य घटनाएं भी जो भाजपा के नेताओं से जुड़ी हुई है उनमें भी कहीं रुपए का पैसा का लेन देन ही कारण तो नहीं यह एक जांच का विषय है | 

रमेश दुबे ने कहा कि जिस प्रकार की घटना मंदसौर हत्याकांड की हुई है हो सकता है प्रदेश में भाजपा कार्यकर्ताओं का सब्र का बांध टूट गया हो और वह हमलावर बन गए हो इस कारण भाजपा के ही नेताओं पर यह हमले होने लगे | लेकिन प्रशासन की सजगता से अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है |  रमेश दुबे ने कहा कि भाजपा के जिन जिन नेताओं पर भी हमले हुए हैं उसकी उच्चस्तरीय जांच होना चाहिए जिससे यह स्पष्ट हो जाएगा कि सत्ता जाने के बाद उन परेशान कार्यकर्ताओं का सब्र का बांध टूट चुका है जो कि अपने रुपए पैसे के लेनदेन और काम ना मिलने के कारण आक्रोशित हो चुके |   दुबे ने कहा कि पुतले जलाकर या धरना प्रदर्शन करके ज्ञापन देकर भाजपा के नेता अपना विरोध प्रदर्शन करे पर उन पीड़ित भाजपा कार्यकर्ताओ की भी मदद करे जिससे मन्दसौर की घटना की पुनरावर्ती न हो ।