चाचा बना वहशी, दुष्कर्म के बाद की थी नाबालिग भतीजी की हत्या, गिरफ्तार

शक की सुई बच्ची के चाचा की तरफ मुड़ गई, पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर जब उससे पूछताछ की तो पहले वो गुमराह करता रहा फिर जब पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की उसने गुनाह स्वीकार कर लिया। आरोपी चाचा ने बताया कि वो अपनी भतीजी को गलत नजर से देखता था और उसके साथ गलत काम की कोशिश में था। 

भिंड, डेस्क रिपोर्ट। भिंड जिले की ऊमरी थाना पुलिस ने नाबालिग के दुष्कर्म अंधे क़त्ल (minor raped andmurdered) का पर्दाफाश कर दिया है।  कातिल कोई और नहीं, नाबालिग का चाचा निकला।  वो लम्बे समय से अपनी भतीजी पर गन्दी नीयत रखता था और मौके की तलाश में था। घटना वाले दिन स्कूल जाते समय उसने भतीजी को रास्ते में रोका उसको खेत में खींचकर उसके साथ दुष्कर्म किया (uncle raped niece), जब उसने विरोध किया तो उसके दुपट्टे से ही गला घोटकर उसकी हत्या (uncle killed niece) कर दी।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक 19 अक्टूबर 2022 को थाने में एक शिकायत पहुंची कि एक नाबालिग स्कूल जाने के लिए एनीकली थी लेकिन घर वापस नहीं आई।  पुलिस ने तलाश शुरू की, बच्ची के दोस्तों, स्कूल वालों पड़ोसियों, रिश्तेदारों से पूछताछ की, इस बीच 23 अक्टूबर को पुलिस को बच्ची के घर से कुछ दूरी पर बाजरे के खेत से  बच्ची का शव मिला।

ये भी पढ़ें – Hero की दो इलेक्ट्रिक साइकिल मचा रहीं धूम, यहां देखें कीमत और रेंज

शव ख़राब हो चुका था, पुलिस ने फोरेंसिक एक्सपर्ट को बुलाया, घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए और आरोपी की तलाश शुरू की। नए सिरे से शुरू की गई पूछताछ में  पुलिस ने बच्ची की सहेलियों, पड़ोसियों, रिश्तेदारों से फिर बात की और इस नतीजे पर पहुंची कि कोई नजदीक का व्यक्ति हत्यारा हो सकता है।

ये भी पढ़ें – सीएम राइज स्कूल : अब सरकारी स्कूलों में मिलेंगी प्राइवेट स्कूलों जैसी सुविधाएं, ग्वालियर में मंत्रियों ने किया भूमिपूजन

शक की सुई बच्ची के चाचा की तरफ मुड़ गई, पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर जब उससे पूछताछ की तो पहले वो गुमराह करता रहा फिर जब पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की उसने गुनाह स्वीकार कर लिया। आरोपी चाचा ने बताया कि वो अपनी भतीजी को गलत नजर से देखता था और उसके साथ गलत काम की कोशिश में था।

ये भी पढ़ें – हजारों शिक्षकों-कर्मचारियों को तोहफा, मिलेगा वेतन-पेंशन और भत्ते का लाभ, 1800 करोड़ की राशि जारी

उसने की बार प्रयास किये लेकिन हर बार कोई ना कोई आ गया, 19 अक्टूबर को उसने देखा कि भतीजी स्कूल जाने के लिए साइकिल में हवा भर रही है तो वो घांस लाने बहाने से से घर से निकल गया और  खेत में मचान के पास खड़ा हो गया।  जैसे ही भतीजी साइकिल से निकली उसने खेत के पास पहुंची उसने उसे दबोच लिया।

बच्ची चिल्लाती रही लेकिन वो उसे बाजरे के खेत में अंदर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म की कोशिश करने लगा। बच्ची ने विरोध किया तो उसने उसके दुपट्टे से उसके हाथ पैर बांध दिए और मुंह में कपड़ा ठूंस दिया फिर उसके साथ दुष्कर्म किया , घर से बताने के दर से फिर उसके दुपट्टे से ही गला घोट दिया और शव को खेत में फेंक दिया, साइकिल थोड़ी दूर एक खेत में मचान के नीचे खड़ी कर दी।

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ हत्या और नाबालिग के साथ दुष्कर्म की धाराओं में मामला दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है। बहरहाल एक वहशीपन ने चाचा भतीजी के पवित्र रिश्ते को न सिर्फ कलंकित कर दिया बल्कि इसे शक की निगाह से देखने के लिए भी मजबूर कर दिया।