पूर्व सीएम जोशी के निधन पर छत्तीसगढ़ में 1 दिन का राजकीय शोक घोषित

भोपाल।

 मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी का 91 साल की उम्र में निधन हो गया है। रविवार  सुबह 11.24 मिनट पर भोपाल में एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। वे करीब तीन वर्ष से बीमार चल रहे थे।उनके निधन से पूरे देशभर में शोक की लहर है।वही छत्तीसगढ़ में 1 दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है। राजकीय शोक में राज्य में कोई भी सांस्कृतिक गतिविधियां आयोजित नहीं की जाएंगी।साथ ही राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे। 

उनके निधन पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने दुःख प्रकट किया।  उन्होंने ट्वीट किया है कि ” मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री कैलाश जोशी जी के निधन की दुःखद सूचना प्राप्त हुई। मैं ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति हेतु प्रार्थना करता हूँ। ईश्वर शोकाकुल परिवार को यह दुःख सहन करने की शक्ति दे। ॐ शांति:। 

वही छत्तीसगढ़ की राज्यपाल सुश्री उईके ने जोशी को श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए ईश्वर से प्रार्थना की है कि दिवंगत आत्मा को शान्ति प्रदान करे और शोक संतप्त परिजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति दे।

बता दे कि कैलाश जोशी जब पहले गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्री बने थे तब मप्र और छग एक राज्य था। सन २००० में यह दो राज्यों में विभाजित हुआ। 26 जून 1977 से 17 जनवरी 1978 तक सीएम पद पर रहे। वे जनसंघ के समय संगठन को मध्य प्रदेश में मजबूत करने के लिए काम करते रहे। 1955 में कैलाश जोशी पहली बार हाटपीपल्या नगर पालिका अध्यक्ष रहे, इसके बाद 1962 से निरंतर देवास जिले के बागली से विधायक रहे। 1951 में वे भारतीय जनसंघ की स्थापना के सदस्य भी रहे।

कल होगा अंतिम संस्कार

आज शाम 5:00 बजे उनकी पार्थिव देह भोपाल स्थित उनके निवास B-30/74 बंगला ले जाई जाएगी।कल 25 नवंबर को सुबह 9:30 बजे जोशी जी की पार्थिव देह प्रदेश भाजपा कार्यालय दीनदयाल परिसर में अंतिम दर्शनार्थ रखी जाएगी ।एक घंटे पश्चात 10:30 बजे उन्हें बैरागढ़, सीहोर और आष्टा होते हुए हाटपिपलिया ले जाया जाएगा जहां अपराहन 3:00 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

पूर्व सीएम जोशी के निधन पर छत्तीसगढ़ में 1 दिन का राजकीय शोक घोषित