कर्मवीर योद्धाओं का 50 लाख का बीमा, शहीद पुलिसकर्मी के परिवार को 1 करोड़ दे सरकार: कमलनाथ

भोपाल| इंदौर में कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे जुनी थाने के प्रभारी देवेन्द्र चंद्रवंशी का शनिवार देर रात निधन हो गया| उनकी मौत पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दुःख जताया है| साथ ही उन्होंने सरकार से जनता की सुरक्षा के लिए फील्ड में तैनात कर्मवीरो को 50 लाख के बीमा और मृत पुलिस अधिकारी को शहीद का दर्जा देकर परिवार को एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने की मांग की है|

कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा-“मैं आज एक बार फिर सरकार से यह माँग कर रहा हूँ कि जनता की सुरक्षा के लिये अपनी जान को जोखिम में डाल ,फ़ील्ड में काम कर रहे डॉक्टर्स , स्वास्थ्यकर्मी,पुलिस कर्मी,मेडिकल स्टाफ़, आशा कार्यकर्ता, अधिकारी-कर्मचारीगण ही जिस प्रकार से बड़ी संख्या में कोरोना से संक्रमित होते जा रहे है, सभी को तत्काल पीपीई किट , मास्क से लेकर सुरक्षा के आवश्यक सारे संसाधन उपलब्ध कराये जाये। फ़ील्ड में काम कर रहे इन सभी कर्मवीर योद्धाओं को अन्य राज्यों की तरह 50 लाख के बीमा के दायरे में लाकर सुरक्षा कवच प्रदान की जावे।

पूर्व सीएम ने अगले ट्वीट में कहा “मैं सरकार से यह भी माँग करता हूँ कि प्रदेश के जिन जिलो में कोरोना अभी तक नहीं पहुँचा है या जहाँ कोरोना संक्रमण के कम मामले है , वहाँ के पुलिस फ़ोर्स को तत्काल कोरोना प्रभावित रेड हॉट स्पॉट जिलो में पदस्थ किया जावे”।