भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के 6 और कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव, विदिशा में भी एक

भोपाल।
मध्यप्रदेश के मिनी मुंबई कहे जाने वाले इंदौर के बाद राजधानी भोपाल मे भी कोरोना का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है। सोमवार सुबह स्वास्थ्य विभाग के 6 और कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटव आई है। इसमें स्वास्थ विभाग की प्रमुख सचिव का पीए भी कोरोना पाजिटिव निकला है। इससे पहले रविवार रात को एक साथ में 23 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे, वही एक की मौत हो गई थी।इसी के साथ ही अब भोपाल में कुल कोरोना पॉजिटिव की संख्या 46 हो गई है।वही प्रदेश मे संक्रमितों की संख्या 210 हो गई है।

सोमवार को भी स्वास्थ्य विभाग पांच कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।भोपाल में कुल संक्रमितों की संख्या 46 हो गई है। यहां इस समय कुल 44 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। दो मरीजों की तीसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद शुक्रवार रात डिस्चार्ज कर दिया गया था। भोपाल में अब तक 20 जमाती संक्रमित पाए गए। प्रदेश में कुल 210 कोरोना पॉजिटिव हैं। वही रविवार देर रात भोपाल में कोरोना से पहली मौत हो गई है। शहर के इब्राहिमगंज के रहने वाले नरेश खटीक ने रविवार देर रात को 12.30 बजे दम तोड़ दिया। रविवार को ही युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी। चार दिन पहले सांस लेने तकलीफ के चलते उन्हें नर्मदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

इसके अलावा एक विदिशा के सिरोंज मे भी कोरोना पॉजिटिव मिला है, जिसकी उम्र करीब 30 साल बताई जा रही है। यह मरीज असम के रहने वाला बताया गया है जो 12 दिन पहले 10 लोगों की जमात के साथ सिरोंज पहुंचा था। मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही जिला प्रशासन ने सिरोंज में कर्फ्यू लगा दिया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार असम से 10 लोगों की जमात 23 मार्च को सिरोंज पहुंची थी। इन्हें 10 दिन बाद एक निजी स्कूल में क्वारंटीन किया गया था। 4 मार्च को इनके सैम्पल जांच के लिए भोपाल भेजे थे।