राजधानी के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज में 6 डाक्टर्स कोरोना पॉजिटिव, 70 डॉक्टरों को किया क्वारंटाइन

भोपाल

राजधानी भोपाल(bhopal) में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं और अब गांधी मेडिकल कालेज(Gandhi Medical College) कोरोना संक्रमण का नया हॉटस्पॉट बनता जा रहा हैं। यहां हालात इतने खराब हो गए हैं कि अब तक 6 डॉक्टर कोरोना वायरस से संक्रमित( 6 doctors infected with Corona virus) हो चुके हैं। पिछले 3 दिनों में 6 डॉक्टर इस बीमारी का शिकार हुए हैं, जहां संक्रमित हुए डॉक्टरों के संपर्क में आने से 70 और डॉक्टर को भी क्वारंटाइन किया गया हैं। क्वारंटाइन हो चुके डॉक्टरों में 15 कंसलटेंट है। आलम यह है कि डॉक्टरों के संक्रमित हो जाने से कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज करने में भी अब कठिनाई आ रही हैं।

एक तरफ जहां शिवराज सिंह (Shivraj Singh) सरकार कोरोना महामारी से निपटने के लिए पूरे प्रयास कर रहीं है वही इस बीच शहर में कोरोना से संक्रमित लोगों का पता लगाने के लिए हर रोज गांधी मेडिकल कॉलेज की 30 टीमें सैंपल लेने के लिए रवाना होती है. यहां मुश्किले तब बढ़ गई जब शुक्रवार को डॉक्टरों को ही क्वारंटाइन किया जाने लगा जिसके बाद कोई भी टीम सैंपल लेने के लिए रवाना नहीं हुई। शहर में अगर इसी रफ़्तार के साथ कोरोना के मामले बढ़ते रहे तो फिर हमीदिया और सुल्तानिया जैसे अस्पताल में कोरोना का इलाज करने वाले डॉक्टरोंं की भी कमी हो जाएगी। पिछले 3 दिनों में ही 6 डॉक्टरोंं का संक्रमित हो जाना यहां एक बड़ा चिंता का विषय बन चुका हैं। 15 दिन पहले ही यहां 2 जूनियर डॉक्टरों भी कोराना वायरस से संक्रमित हो गए थे.

वहीं इंद्रा गाधी अस्पताल में भी कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहें है. जहां अब एक डॉक्टर व तीन अन्य कर्मचारी भी कोरोना वायरस का शिकार हो गए। एक तरफ जहा पूरे प्रदेश भर में कोरोना संक्रमितो के आकड़े बढ़ रहें हैं वहीं इस बीच शहर के तीन अस्पताल जिन्में हमीदिया, सुल्तानिया और इंद्रागांधी है इनमें करीब 500 लोगों के इस बीमारी से संक्रमित होने का अनुमान लगाया गया हैं. इस मुश्किल घड़ी में डॉक्टरों द्रारा कोरोना मरिजों का इलाज करना भी अब एक बड़ी चुनौती बन गया हैं।