Bhopal: जिसे माना बेटा वो ही निकला हैवान, 78 साल की बुजुर्ग महिला से की दरिंदगी

भोपाल में एक 78 वर्षीय बुजुर्ग महिला के साथ 37 साल के युवक ने दुष्कर्म किया। महिला ने एनजीओ की मदद से पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाई है।

bhopal

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राजधानी भोपाल (Bhopal) में एक बुजुर्ग महिला के साथ दुष्कर्म किए जाने की घटना सामने आई है। हैरानी की बात तो यह है कि महिला के साथ इस घिनौनी करतूत को उस शख्स ने अंजाम दिया है जिसे वह अपना बेटा मानती थी। मामला सामने आने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

यह घटना भोपाल के हबीबगंज इलाके में हुई है। यहां पर स्थित 11 सौ क्वार्टर के पास बने मंदिर के करीब झुग्गी झोपड़ी बनाकर रहने वाली 78 वर्षीय महिला के साथ एक 37 वर्षीय आरोपी ने दुष्कर्म किया। आरोपी की जबरदस्ती की वजह से महिला के चेहरे और गले में सूजन आ गई थी। मंदिर में आने-जाने वाले लोगों ने महिला का इलाज करवाया। इसके बाद एक एनजीओ की मदद से आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

Must Read- देवास में संदिग्ध परिस्थितियों में हुई युवती की मौत, पीएम रिपोर्ट आने के बाद होगा मामले का खुलासा

महिला मूल रूप से खंडवा की रहने वाली है। उसके तीन बेटे हैं दो बेटे खंडवा में ही रहते हैं लेकिन वह मां को अपने साथ नहीं रखना चाहते। छोटा बेटा 3 साल पहले उसे अपने साथ भोपाल लेकर आया था। बेटा अपनी मां का बहुत ख्याल रखता था लेकिन कुछ दिनों पहले उसकी मौत हो गई। इसके बाद से बुजुर्ग बेसहारा हो गई और मंदिर के पास झुग्गी बनाकर रहने लगी। यहां आने जाने वाले लोग उसे खाने के लिए खाना दे देते हैं जिससे गुजारा हो जाता है।

महिला के साथ दुष्कर्म की वारदात मंदिर में खाना लेने आने वाले राजू नामक युवक ने की है। महिला इस व्यक्ति को अपने बेटे की तरह मानती थी और कई दफा उसे अपने हिस्से का खाना भी खिलाती थी। महिला के साथ हुई हैवानियत की यह घटना 26 अक्टूबर की रात 2 बजे की है। युवक अचानक ही महिला की झुग्गी में घुसा और खाना देने के लिए कहा। महिला ने जब कहा कि उसके पास खाना नहीं है तो आरोपी ने उसे जमीन पर पटक कर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।

Must Read- खाद लूट मामले में विधायक पर कार्रवाई के बाद कांग्रेस ने बंद करवाया आलोट, भगवान गणेश को दिया ज्ञापन

घटना से सहमी महिला ने किसी को कुछ नहीं बताया और अगले दिन उसका चेहरा और गला सूजा हुआ देखकर लोगों ने उसका इलाज करवाया। इसके बाद राजू ने कई बार महिला की झुग्गी में आने की कोशिश की लेकिन उसे देखकर महिला मंदिर में बैठ जाया करती थी। 11 नवंबर को भी आरोपी महिला की झुग्गी पर पहुंचा और खाना देने की बात करने लगा। रास्ते पर चहल-पहल होने के चलते महिला ने उसे वहां से भगा दिया और वह चला भी गया। इसके बाद परेशान महिला ने अपने साथ हुई दरिंदगी की जानकारी एक एनजीओ कर्मचारी को दी। इसके बाद कर्मचारी उसे थाने पर लेकर पहुंचे और महिला ने आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई। जानकारी के मुताबिक राजू नामक यह युवक शाहपुरा इलाके का है और फुटपाथ पर भीख मांगने का काम करता है। 11 सौ क्वार्टर के पास बने मंदिर के बाहर इसे अक्सर हो देखा जाता है। महिला की शिकायत के बाद पुलिस ने इसे गिरफ्तार कर लिया है।