बंद कमरे में फांसी के फंदे पर झूलता हुआ मिला छात्र का शव, पुलिस कर रही जांच

suicide

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। शहर के निशातपुरा क्षेत्र से आत्महत्या का मामला सामने आया है। जहां अपनी बहन के साथ रहने वाले एक 20 साल के छात्र ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया है। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है, जिसके चलते आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस पूछताछ में जुट गई है। जानकारी के मुताबिक मृतक छात्र के पास मोबाइल फोन नहीं था, जिसके चलते वो परेशान रहता था। वहीं मृतक के पिता ने बीते 25 अगस्त को फोन दिलाने की बात कही थी। पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मार्ग कायम कर जांच में जुट गई है।

पुलिस ने बताया कि मृतक छात्र राजगढ़ के रहने वाला था, जिसका नाम बंटी राजपूत था, जोकि 20 साल का था। मृतक बंटी अपनी बड़ी बहन के साथ रहता था। मृतक की बहन आरती राजपूत प्राइवेट कंपनी में जॉब करती थी। मृतक स्कूल में पढ़ता था पर कोरोना वायरस के चलते स्कूल बंद होने के कारण वो एक मेडिकल स्टोर में काम करने लगा था।

सुबह उसकी बहन जॉब पर चली गई थी, पर वो तबियत ठीक नहीं होने के चलते काम पर नहीं गया था। शाम को आरती राजपूत घर लौटी तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। कई बार खटखटाने के बाद जब दरवाजा नहीं खुला तो उसने इसकी सूचना किराएदार को दी। जिसके बाद मकान मालिक ने खिड़की से झांककर देख तो छात्र फांसी पर लटका दिखा। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमोर्टम के लिए भेज दिया है।

बता दें कि 25 अगस्त को मृतक जब नरसिंहगढ़ में अपने गांव गया था तो उसने अपने पिता से मोबाइल दिलाने को कहा था। पिता ने उसे भोपाल आकर मोबाइल दिलाने की बात कही थी। वहीं घर की छानबीन करने पर पुलिस को दो पुराने मोबाइल मिले हैं, जो चालू हालत में नहीं हैं। पुलिस ने दोनो मोबाइल को जब्त कर लिया है और जांच मे जुट गई है।