नगर परिषद के प्रभारी सीएमओ सस्पेंड, वित्तीय अनियमितता के आरोप

निलंबित

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| वित्तीय अनियमितता के आरोप में घिरे रीवा जिले के सिरमौर नगर परिषद के प्रभारी मुख्य नगर पालिका अधिकारी दयाराम मिश्रा पर गाज गिरी है| मध्यप्रदेश के नगरीय प्रशासन एवं विकास आयुक्त निकुंज श्रीवास्तव ने दयाराम मिश्रा को गंभीर वित्तीय एवं अन्य अनियमितताओं और कर्त्तव्यों में लापरवाही के कारण निलंबित कर दिया है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार निलंवन अवधि में इनका मुख्यालय संभागीय संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास कार्यालय रीवा रहेगा। बताया गया कि नगर पालिक अधीकारी के द्वारा नियम-कायदे की अनदेखी करते हुए पांच लाख रुपए के अग्रिम भुगतान कर ली गई। जिसमें दो लाख रुपए का बाउचर भुगतान कर लिया है। इतना ही नहीं दैनिक वेतन श्रमिकों के वेतनमान में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की गई है।

आरोप है कि सीएमओ श्री मिश्र ने नगर परिषद में स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम में 901 व्यक्तिगत टायलेट निर्माण की स्वीकृति दी गई थी जिसमें ठेकेदार से सांठगांठ कर महज 60 टायलेट निर्माण कराए गए हैं। तत्कालीन ठेकेदार का ठेका निरस्त करने के बाद नियम कायदे की अनदेखी कर ठेकेदार को अमानत राशि वापस कर दी गई।वित्तीय वर्ष 219-20 में विभिन्न साइज के पाइप, विद्युत सामग्री, बोर, साफ-सफाई आदि सामग्री को नियम-कायदे की अनदेखी कर खरीद की गई है।