मप्र में भी लॉकडाउन 17 मई तक, ग्रीन-ऑरेंज जोन में शर्तों के साथ मिलेगी रियायत

भोपाल| केंद्र सरकार द्वारा देश में लागू लॉकडाउन (Lockdown) को दो सप्ताह आगे बढ़ाने के बाद अब मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी 17 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने प्रदेश के नाम सम्बोधन के दौरान इसका एलान किया| उन्होंने बताया इस बार लॉक डाउन अलग स्वरुप में होगा| इसे अलग अलग हिस्‍सों में शर्तों के साथ लागू किया जाएगा। रेड जोन में पाबंदी पूरी तरह लागू रहेंगी जबकि ऑरेंज और ग्रीन जोन (Orange and Green Zone) में शर्तों के साथ छूट दी जाएगी। स्‍कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर बंद रखे जाएंगे।

सीएम शिवराज ने कहा संक्रमण रोकना है लेकिन जहान की चिंता भी करना है| नई गाइडलाइन के आधार पर जिलों को तीन भागों में बांटा गया है| एक वो जिले जो रेड जोन में है, यहां अधिक संक्रमण है| दूसरा ऑरेंज जोन, वो जिले जहाँ कम संक्रमण है और तीसरा ग्रीन जोन जहा संक्रमण नहीं है या एक दो मामले है| कुछ गतिविधियां अलग अलग जोन में जारी रह सकेंगी|

मुख्यमंत्री ने कहा संक्रमण भी रोकना है और रोजी रोटी की भी सोचना है, आर्थिक गतिविधियां भी चालु करना है| कुछ गतिविधियां सभी जोन में बंद रहेंगी| सभी प्रकार की हवाई यात्रा, रेल सेवा, अंतर्राजीय बस सेवा, स्कूल, कॉलेज, प्रशिक्षण संस्थान, स्वास्थय, पुलिस शासकीय अधिकारी, स्वास्थय कर्मी लॉक डाउन में फंसे लोगों को छोड़कर हॉस्पिटेलिटी सेवाएं प्रतिबंधित रहेंगी| होटल, जिम, मॉल, सिनेमा घर, बार या अहाता, सामुदायिक भवन बंद रहेंगे| सभी प्रकार के सामाजिक राजनीतिक खेलकूद सम्बन्धी साहितियक धार्मिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं होगी| पूजन स्थल, धार्मिक समारोह नहीं होंगे| सीनियर सिटीजन को घरों में ही रहना है, गर्भवती महिला, दस साल से कम उम्र के बच्चे घर पर ही रहेंगे|

विवाह तथा अंत्येष्टि

मुख्यमंत्री ने बताया कि ग्रीन जोन में विवाह कार्यक्रम में जिला कलेक्टर अधिकतम 50 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति दे सकेंगे। रैड एवं ऑरेंज जोन के बाहरी हिस्सों में भी स्थानीय प्रशासन वहां की स्थिति के अनुरूप सीमित संख्या में व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति दे सकेंगे। अंतिम संस्कार में 20 लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी।

मैं भौतिक रूप से न सही, अंतर्रात्मा से आपके साथ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री की शपथ ग्रहण के बाद लगातार कोरोना संकट से जूझने में लगा हूँ। मेरा मन लगातार आपके पास आने का होता है परंतु लॉकडाउन की मर्यादा के कारण मैं ऐसा नहीं कर पा रहा हूँ। पर मेरी आत्मा निरंतर आपके साथ है। हम प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता मिलकर कोरोना को अवश्य परास्त करेंगे।

जितने नए संक्रमित, उनसे ज्यादा स्वस्थ होकर घर जा रहे हैं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में कोरोना की स्थिति में निरंतर सुधार हो रहा है। अब जितने नए प्रकरण कोरोना के मिल रहे हैं उनसे कहीं ज्यादा स्वस्थ होकर लोग घर जा रहे हैं। आज देश की तीनों सेनाओं ने कोरोना योद्धाओं का अभिनंदन किया है। इस कार्य की मैं दिल से प्रशंसा करता हूँ।

सावधान एवं सजग रहें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अभी कोरोना संकट टला नहीं है। यह वायरस छापामार लड़ाई करता है तथा तेजी से फैलता है। थोड़ी सी सावधानी भारी पड़ेगी। अत: पूरी सावधानी और सजगता रखें। थोड़ी से लापरवाही ग्रीन को ऑरेंज जोन बना सकती है तथा फिर वहां सारी गतिविधियां बद हो जाएंगी। अत: हमें पूर्ण सजग रहकर रैड को ऑरेंज में तथा ऑरेंज जोन को ग्रीन में बदलना है। यह निरंतर अनुशासन एवं प्रशासन के साथ मिलकर कार्य करने से ही संभव है।

updating…