अब तीन घरों तक सीमित होगा कंटेनमेंट एरिया, 5 दिन में फ्री होगा क्षेत्र

भोपाल| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Corona) पर कुछ हद तक नियंत्रण हो रहा है| हालाँकि नए मामले अभी भी सामने आ रहे है| लॉकडाउन के दौरान लगी रोक में भी अब अब धीरे धीरे सरकार रियायत दे रही है| वहीं प्रदेश में अब संक्रमण रोकने के लिए बनाए जाने वाले कंटेनमेंट जोन (Containment-Zone) का दायरा सिर्फ तीन घरों तक रहेगा। इसकी अवधि भी 21 दिन नहीं रहेगी। गृह व लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कोरोना संक्रमण को लेकर कंटेंनमेंट एरिया क्षेत्र को फिर से परिभाषित करने पर सहमति बनी है। अब किसी क्षेत्र को 21 दिनों के लिए कंटेनमेंट एरिया नहीं बनाया जायेगा।

कोरोना पॉजिटिव प्रकरण सामने आने के बाद संबंधित के घर के दोनों ओर के एक-एक घर को मिलाकर कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। पहला सर्वे होने के बाद दूसरा पांच दिन बाद होगा। इसमें यदि कोई और कोरोना पॉजिटिव प्रकरण सामने नहीं आता है तो कंटेनमेंट जोन खोल दिया जाएगा।

घनी बस्ती को लेकर कंटेनमेंट जोन बनाने के मामले में निर्णय स्थानीय परिस्थितियों के हिसाब से जिला प्रशासन करेगा। गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि संभाग आयुक्त और कलेक्टरों के साथ हुई बैठक में कंटेनमेंट जोन को नए सिरे से परिभाषित करने का विषय आया था।